kaushal-kishore-and-aayush

    लखनऊ. एक बड़ी खबर के अनुसार मोहनलालगंज (Mohanlalganj) के बीजेपी (BJP) सांसद कौशल किशोर (Kaushal Kishore) के बेटे आयुष(Ayush) पर हुई फायरिंग (Firing) के मामले में मीडिया रिपोर्ट्स के मुताबिक अब एक नया मोड़ आ गया है। सूत्रों के अनुसार  इस घटना पर अब लखनऊ पुलिस (Lucknow Police) का दावा है कि सांसद कौशल किशोर के बेटे आयुष ने अपने साले से ही अपने ऊपर गोली (Firing) चलवाई है। वहीं अगर पुलिस की मानें तो हथियार एक लाइसेंसी रिवाल्वर (Revolver) था, जो कि अब बरामद भी हो गयी है। लेकिन यह बात अभी भी साफ़ नहीं हुई कि आखिर आयुष ने क्यों खुद पर गोली चलवाई है। 

    क्या कहती है पुलिस:

    अगर कुछ मीडिया रिपोर्ट्स की मानें तो इस घटना पर लखनऊ पुलिस कमिश्नर डी.के ठाकुरका कहना है कि, यह घटना रात के करीब 2 बजकर 10 मिनट के दरमियान की है, पहले तो ययह बताया गया कि सांसद के बेटे पर कुछ अज्ञात हमलावरों ने गोली चलाई है। लेकिन अब तक की तहकीकात में यही साफ़ होता दिख रहजा है कि, सांसद के बेटे आयुष के कहने पर ही उसके साले ने गोली चलाई है। वहीं अब आयुष के साले को हिरासत में लेकर पुलिस पूछताछ कर रही है।

    इसके साथ ही सूत्रों के अनुसार,  लखनऊ पुलिस कमिश्नर डीके ठाकुर ने कहा कि, “जिस पिस्टल से यह गोली चली थी, उसे हमने बरामद कर लिया है। यह भी पता चला है कि सांसद कौशल किशोर के बेटे आयुष ने पिछले साल ही लव मैरिज की थी। उसके बाद से ही वह अपने पिता से अलग रह रहा था। अभी घटना को लेकर पड़ताल जारी है, अब हम यह पता लगाने की कोशिश कर रहे हैं कि आखिर आयुष ने अपने साले से खुद पर गोली चलवाई तो क्यों चलवाई? 

    क्या है घटना की कहानी, आयुष की जुबानी:

    इससे पहले खबर यह थी कि सांसद कौशल किशोर के बेटे आयुष को कुछ बाइक सवार बदमाश गोली मारकर फरार हो गए। इसके बाद गंभीर हालत में आयुष को ट्रामा सेंटर में भर्ती किया गया था। फिलहाल खबरों की मानें तो आयुष की स्थिति अभी खतरे से बाहर है और उसे  अस्पताल से छुट्टी दे दी गई है।

    इस मामले में यह भी दावा किया गया थाथा कि आयुष तड़के सुबह मड़ियांव होकर घर लौट रहा था। तभी छठा मील के पास पहुंचने पर कुछ बदमाशों ने उस पर फायरिंग की। आयुष को गोली छूती हुई निकल गई, इसीलिए अस्पताल से प्राथमिक इलाज के बाद ही उसे तुरंत छुट्टी दे दी गई। 

    इधर इस मामले में सांसद कौशल किशोर ने बताया, “आयुष का यह कहना है कि यह खतरनाक घटना तड़के टहलने के समय घटित हुई है। वह  अपने साले के साथ टहल रहा था।” हालाँकि सांसद कौशल किशोर ने इसके अलावा और कुछ भी बताने से इनकार कर दिया है। फिलहाल, मामले को लेकर सघन जांच चल रही है और पुलिस के सवालों से केस को एक नयी राह मिल गयी है जो आयुष के पास से ही कहीं गुजरती है।