hathras

मथुरा. उत्तर प्रदेश (Uttar Pradesh) के हाथरस (Hathras) में एक दलित युवती के साथ कथित सामूहिक दुष्कर्म और उसकी मौत के बाद हिंसा फैलाने की साजिश रचने के आरोप में पकड़े गए एक पत्रकार समेत पॉपुलर फ्रंट ऑफ इंडिया (PFI) / कैंपस फ्रंट ऑफ इंडिया (CFI) के चार सदस्यों में से एक रामपुर निवासी मोहम्मद आलम की पत्नी ने पुलिस पर अपने पति को झूठा फंसाने का आरोप लगाया है।

आलम की जमानत याचिका पर बृहस्पतिवार को सुनवाई होनी थी और आलम की पत्नी बुशरा अपने परिजन के साथ अदालत पहुंची थी। उसने बृहस्पतिवार को अदालत परिसर में संवाददाताओं से बातचीत में कहा कि पुलिस ने उसके पति को झूठ में फंसाया है। बुशरा ने दावा किया कि उसका पति आलम पढ़ा-लिखा नहीं है और परिवार का पेट पालने के लिए टैक्सी चलाता है। पुलिस ने किसी गलतफहमी के चलते उसकी गाड़ी में बैठी सवारियों के साथ ही उसे गिरफ्तार कर लिया है।