Parents in Ayodhya prevented from submitting memorandum to Chief Minister
Parents in Ayodhya prevented from submitting memorandum to Chief Minister

अयोध्या. उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ को लॉकडाउन के दौरान स्कूलों द्वारा शुल्क वसूले जाने के खिलाफ यहां ज्ञापन सौंपने की तैयारी कर रहे कार्यकर्ताओं और अभिभावक संगठन के नेताओं को पुलिस ने रोक दिया। पुलिस ने बताया कि हिंदू महासभा के जिलाध्यक्ष मनीष पांडेय, जिला अभिभावक समिति के अध्यक्ष नवाब सिंह, धरम सेना के अध्यक्ष संतोष दुबे और स्थानीय कांग्रेस नेता शरद शुक्ला समेत अन्य को उनके घरों से नहीं निकलने दिया गया।

अयोध्या के पुलिस उपाधीक्षक अरविंद चौरसिया ने ‘पीटीआई-भाषा’ से कहा कि इन लोगों को उनके घरों में ही रोक दिया गया। कार्यकर्ताओं ने मुख्यमंत्री को लॉकडाउन के दौरान स्कूलों के शुल्क में छूट की मांग वाला ज्ञापन सौंपने की योजना बनाई थी। पांडेय ने कहा, ‘‘हम मुख्यमंत्री को ज्ञापन सौंपकर उनसे अनुरोध करना चाहते थे कि निजी स्कूल मालिकों से लॉकडाउन के दौरान शुल्क में छूट देने को कहा जाए क्योंकि सभी अभिभावकों की आर्थिक गतिविधियों पर बुरा असर पड़ा है।” उन्होंने कहा, ‘‘अयोध्या में निजी स्कूलों में पढ़ने वाले अधिकतर बच्चों के अभिभावक छोटे व्यापारों से जुड़े हैं और लॉकडाउन से उन्हें बड़ा झटका लगा है।”