Special precautions should be taken to prevent covid-19 in social institutions: Chief Secretary

लखनऊ. उत्तर प्रदेश के मुख्य सचिव राजेन्द्र कुमार तिवारी ने सोमवार को निर्देश दिये कि महिला संरक्षण गृह, नारी निकेतन, अनाथालय एवं बाल सुधार गृह जैसी सामाजिक संस्थाओं में कोविड-19 की रोकथाम एवं नियंत्रण के लिए विशेष सावधानियां बरती जायें। उन्होंने कहा कि संस्थान में प्रवेश से पूर्व प्रत्येक कर्मचारी और व्यक्ति की प्रवेश द्वार पर थर्मल स्क्रीनिंग की जाये और इसके साथ ही संस्थान के प्रवेश द्वारा पर सेनिटाइजर की भी व्यवस्था की जाये। उन्होंने कहा कि संस्था में सर्दी, जुकाम, बुखार से पीड़ित किसी भी व्यक्ति को प्रवेश न दिया जाये।

मुख्य सचिव तिवारी ने सोमवार को जारी एक बयान में बताया कि ये निर्देश संस्थाओं में कड़ाई से अनुपालन सुनिश्चित कराने हेतु समाज कल्याण तथा महिला एवं बाल विकास विभाग के अपर मुख्य सचिव एवं प्रमुख सचिव को परिपत्र जारी कर दिये हैं। उन्होंने कहा कि कोविड-19 संक्रमण के प्रसार को रोकना प्रदेश सरकार की सर्वोच्च प्राथमिकता है। उन्होंने कहा कि संस्थाओं में कोविड-19 के संक्रमण की रोकथाम एवं नियंत्रण हेतु अंतःवासियों को मास्क, दुपट्टा, गमछा अथवा रुमाल आदि का प्रयोग अनिवार्य रूप से करने के लिए निर्देश दिये जाये।(एजेंसी)