yogi

लखनऊ. उत्‍तर प्रदेश की राज्‍यपाल आनंदीबेन पटेल (Anandiben Patel)) और मुख्‍यमंत्री योगी आदित्‍यनाथ (Yogi Adityanath) ने पूर्व गृह मंत्री सरदार वल्‍लभ भाई पटेल की जयंती पर राजभवन स्थित मुख्‍य लॉन में उनकी प्रतिमा का शनिवार को अनावरण किया और पुष्‍प चढ़ाकर उन्हें श्रद्धांजलि अर्पित की। राजभवन से जारी बयान के अनुसार अपने संबोधन में राज्यपाल ने कहा, ‘‘महात्मा गांधी ने सरदार पटेल के व्यक्तित्व के संबंध में कहा था कि यदि मेरे साथ सरदार पटेल न होते तो आजादी मिलने में और 10 साल लग जाते।” राज्यपाल ने कहा,‘‘अंग्रेजों के मन में यह भाव था कि इन्हें आजादी दे दो लेकिन अखण्ड भारत तो बनेगा नहीं, क्योंकि 562 रियासतों के राजा-रजवाड़े अपना राज छोड़ने वाले नहीं हैं।”

आनंदी बेन पटेल ने कहा, ”सरदार पटेल का व्यक्तित्व एवं प्रभाव ऐसा था कि धीरे-धीरे सभी रियासतों के राजा-रजवाड़ों ने उनकी बात मानकर अखण्ड भारत के सपने को साकार किया।” इस अवसर पर पूर्व मंत्री एवं भारतीय जनता पार्टी के प्रदेश अध्‍यक्ष स्वतंत्रदेव सिंह, मुख्य सचिव राजेन्द्र तिवारी, राज्यपाल के अपर मुख्य सचिव महेश कुमार गुप्ता, अपर मुख्य सचिव गृह अवनीश अवस्थी, अपर मुख्य सचिव सूचना नवनीत सहगल, निदेशक सूचना शिशिर सहित अन्य लोग भी उपस्थित थे। राज्यपाल एवं मुख्यमंत्री ने इस अवसर पर संस्कृति विभाग द्वारा सरदार वल्लभ भाई पटेल के जीवन एवं कृतित्व पर लगायी गयी छाया चित्र प्रदर्शनी का अवलोकन किया।

राज्यपाल ने जनक सिंह मीना की पुस्तक ‘सरदार पटेल व्यक्तित्व, विचार एवं राष्ट्र निर्माण’ का विमोचन भी किया। इससे पूर्व राज्यपाल एवं मुख्यमंत्री ने जीपीओ पार्क स्थित सरदार वल्लभ भाई पटेल की प्रतिमा स्थल पर जाकर उन्हें श्रद्धांजलि अर्पित की। इस अवसर पर राज्यपाल ने उपस्थित जनसमूह को राष्ट्रीय एकता की शपथ भी दिलायी। इसके पहले राज्यपाल ने सरदार वल्लभ भाई पटेल की 146वीं जयंती के अवसर पर जौनपुर में पूर्वांचल विश्वविद्यालय में पटेल की नव स्थापित प्रतिमा का ऑनलाइन अनावरण किया। राज्यपाल ने इस अवसर पर महर्षि वाल्मीकि एवं आचार्य नरेन्द्र देव की जयंती पर तथा पूर्व प्रधानमंत्री इंदिरा गांधी की पुण्यतिथि पर उन्हें श्रद्धांजलि अर्पित की।