सुरक्षा या मजाक: बांदा जेल से फरार कैदी जेल के अंदर से ही मिला

    बांदा: उत्तर प्रदेश में बांदा जेल से कथित रूप से फरार कैदी विजय आरख सोमवार की शाम सघन तलाशी अभियान के दौरान जेल के अंदर ही मिल गया। जेल अधिकारियों ने सोमवार सुबह इस सिलसिले में नगर कोतवाली में कैदी के फरार होने का मामला दर्ज करवाया था।

    अपर पुलिस अधीक्षक (एएसपी) महेंद्र सिंह चौहान ने सोमवार देर शाम बताया कि रविवार देर शाम करीब साढ़े सात बजे से लापता कैदी विजय आरख (23) आज शाम करीब पांच बजे जेल अधिकारियों की सघन तलाशी अभियान के दौरान जेल की ही मुख्य दीवार की घास में छुपा हुआ मिला।

    एएसपी ने बताया कि विचाराधीन कैदी अपनी बैरिक की दीवार फांदकर जेल की मुख्य दीवार तक पहुंच गया था, लेकिन उसे वहां से भागने का मौका नहीं मिला,लिहाजा वह घास में ही छुप गया था। उन्होंने बताया कि जेल प्रशासन की तरफ से सोमवार सुबह कैदी के जेल से फरार होने का मामला दर्ज करवाया गया था।

    इसके पहले सोमवार सुबह चौहान ने बताया था कि गिरवां थाना क्षेत्र के बरसड़ा बुजुर्ग गांव के रहने वाले विचाराधीन बंदी विजय आरख के बांदा जेल से रविवार शाम करीब साढ़े सात बजे भाग जाने की सूचना मिली है। फरार बंदी विजय को डकैती और अन्य गंभीर धाराओं में गिरफ्तार कर छह फरवरी को जेल भेजा गया था।

    गौरतलब है कि बाहुबली विधायक मुख्तार अंसारी भी इसी जेल में कैद है। उसे जेल में रखे जाने की तिथि से जेल की सुरक्षा व्यवस्था बढ़ा दी गई है लेकिन, कई चक्र की सुरक्षा तोड़ कर बंदी के फरार होने की खबर से जेल व्यवस्था पर सवाल खड़े होने लगे थे।