comitte

लखनऊ : उत्तर प्रदेश में सियासी संभावनाओं की तलाश में जुटी कांग्रेस पार्टी योगी सरकार की क़ानून व्यवस्था और भ्रष्टाचार को लेकर आक्रामक बनी हुई है. खुद उत्तर प्रदेश प्रभारी व कांग्रेस महासचिव प्रियंका गाँधी सीएम योगी और उनकी सरकार पर हमला करने का कोई अवसर नहीं छोड़ रही हैं और इसके लिए कई मर्तबा वह सड़कों पर भी उतर चुकी हैं. वहीँ प्रदेश कांग्रेस कमेटी के मुखिया अजय कुमार लल्लू भी जनता के मुद्दों को लेकर दर्जनों बार जेल भी जा चुके हैं.

UP

इन सबके अलावा संगठन स्तर पर अभी भी तमाम कमियाँ होने के बावजूद कांग्रेस अपने से अलग हुए मूल कैडर के मतों को समेटने में भी कोई कोर कसर अन्हीं छोड़ रही है. इसी क्रम में मंगलवार को उत्तर प्रदेश कांग्रेस अनुसूचित विभाग ने कर्मचारियों के लिए एक कमेटी गठित किया. उत्तर प्रदेश कांग्रेस कमेटी अनुसूचित जाति विभाग के चेयरमैन अलोक प्रसाद कि तरफ से जारी पत्र में कमेटी का नाम “डॉ अम्बेडकर इम्पलाईज फेडरेशन” दिया गया है. जिसमें सूबे के सेवानिवृत्त हो चुके आईएएस और पीसीएस अफसरों को जगह दी गयी है. 5 सदस्यीय इस कमेटी में 2 रिटायर्ड आईएएस, 1 रिटायर्ड पीसीएस, 1 पूर्व कुलपति और बीएचयू के 1 पूर्व प्रोफेसर का नाम शामिल है. उत्तर प्रदेश कांग्रेस कमेटी के अनुसूचित जाति विभाग द्वारा गठित इस कमेटी का अध्यक्ष रिटायर्ड आईएएस अफसर देवी दयाल को बनाया गया है.