UP will change with feedback from ministers, organizations and legislators

    राजेश मिश्र

    लखनऊ : कोरोना संकट में मिले अपयश, पंचायत चुनावों (Panchayat Elections) की हार और पार्टी में पनप रहे असंतोष के मद्देनजर भाजपा (‍BJP) यूपी (UP) को लेकर एकदम संजीदा है। विधानसभा चुनावों से पहले पार्टी संघ, सरकार से लेकर संगठन तक की ओवरहालिंग (Overhauling) कर नए तेवर और कलेवर में जनता के बीच जाना चाहती है।  जहां पार्टी का केंद्रीय नेतृत्व और संघ सरकार से लेकर संगठन में बदलाव पर गंभीरता से विचार कर रहा है, वहीं प्रदेश के मंत्रियों, विधायकों से फीडबैक (Feedback) लेने की कवायद भी शुरु हो गयी है।  भाजपा का केंद्रीय नेतृत्व मंत्रियों-विधायकों से बात कर उनकी दिक्कतें, सरकार की छवि सुधारने के सुझाव के साथ आगे की रणनीति पर विचार विमर्श कर रहा है।  सोमवार को यूपी की राजधानी में भाजपा के राष्ट्रीय संगठन मंत्री बीएल संतोष और उत्तर प्रदेश के प्रभारी राधामोहन सिंह पहुंचे और बैठकों का सिलसिला शुरु किया। 

    प्रदेश भाजपा मुख्यालय में बीएल संतोष, राधामोहन सिंह, प्रदेश अध्यक्ष स्वतंत्रदेव सिंह और प्रदेश संगठन प्रभारी सुनील बंसल की मौजूदगी में सोमवार को सबसे पहले मंत्रियों से मुलाकातों का सिलसिला शुरु हुआ। सबसे पहले इन नेताओं ने प्रदेश के जलशक्ति मंत्री महेंद्र सिंह से बात की और उसके बाद कानून मंत्री ब्रजेश पाठक से लंबी बातचीत की। पार्टी के इन बड़े नेताओं ने मंत्री सुरेश खन्ना, जय प्रताप सिंह से भी मुलाकात की। दोपहर भोजन के बाद प्रदेश भाजपा कार्यालय में ही मंत्री सिद्धार्थनाथ सिंह, श्रीकांत शर्मा, सतीश दिवेदी और स्वाति सिंह ने भी अलग-अलग मुलाकात की है। 

    सभी मंत्रियों से करीब आधा घंटा बातचीत की गयी

    पार्टी के वरिष्ठ नेता के मुताबिक, मंत्रियों से मुलाकात में कामकाज को लेकर उनका फीडबैक जाना गया और समस्याओं को जाना गया।  साथ ही मंत्रियों से फील्ड में कोरोना संकट के बाद के हालात पर बात की गयी और सेवा कार्यों को लेकर जनता के बीच पड़ने वाले प्रभाव पर बात की गयी।  सभी मंत्रियों से करीब आधा घंटा बातचीत की गयी। राष्ट्रीय संगठन मंत्री बीएल संतोष और यूपी के प्रभारी राष्ट्रीय महासचिव राधामोहन सिंह मंगलवार सुबह प्रदेश के डिप्टी सीएम केशव प्रसाद मौर्य और दिनेश शर्मा से अलग-अलग मुलाकात करेंगे।  यह बैठक दोनो डिप्टी सीएम के आवास पर होगी और उनसे संगठन से लेकर सरकार की दशा पर बात होगी।  सोमवार को मंत्रियों से मिले फीडबैक पर भी डिप्टी सीएम से चर्चा होगी।  साथ ही सोमवार को होने वाली कोर कमेटी की बैठक के निष्कर्षों पर भी बातचीत होगी।

    सीएम आवास पर यूपी बीजेपी कोर ग्रुप की भी बैठक  

    भाजपा प्रदेश कार्यालय से मिली जानकारी के मुताबिक, बीएल संतोष और राधामोहन सिंह ने सोमवार दोपहर संगठन को लेकर उच्च स्तरीय बैठक की।  बैठक में यूपी बीजेपी प्रभारी राधामोहन सिंह, यूपी बीजेपी अध्यक्ष स्वतंत्र देव सिंह, यूपी बीजेपी संगठन महामंत्री सुनील बंसल मौजूद रहे।  साथ ही  बैठक में यूपी बीजेपी के 6 क्षेत्रीय अध्यक्ष और 7 महामंत्री भी शामिल थे।  यूपी के तीनों सह प्रभारियों को भी बैठक में बुलाया गया था।  इस  बैठक के बाद सीएम आवास पर यूपी बीजेपी कोर ग्रुप की भी बैठक हुई। 

    बड़े पैमाने पर बदलाव संभव 

    भाजपा के उच्च स्तरीय नेताओं का कहना है कि जिस तरह से कवायद चल रहा है उससे इतना तो साफ है कि बड़े पैमाने पर बदलाव संभव है।  विधानसभा चुनाव में जाने से पहले सरकार से लेकर संगठन की छवि को बदला जाएगा।  इस बदलाव में राज्य में नए मंत्रियों का शामिल होना, कई मंत्रियों के विभागों में बदलाव संभव है।  इतना ही नहीं उत्तर प्रदेश को केंद्रीय मंत्रिमंडल में प्रस्तावित विस्तार में भी बड़ी हिस्सेदारी मिल सकती है।  जातीय व क्षेत्रीय समीकरणों के हिसाब से कुछ यूपी के सांसद केंद्रीय मंत्रिमंडल में जगह पा सकते हैं।  संगठन के स्तर पर काफी बदलाव अपेक्षित हैं। 

    संगठन में बदलावों की चर्चा जोरों पर

    कोरोना संकट के दौरान सरकार को लेकर उपजी नाराजगी और पंचायत चुनाव के नतीजों से मिली निराशा के बाद उत्तर प्रदेश में सरकार से लेकर संगठन में बदलावों की चर्चा जोरों पर है।  यूपी में मंत्रिमंडल विस्तार की चर्चाएं भी तेज हैं।   प्रदेश में फिलहाल 53 मंत्री हैं।  मंत्रिमंडल में 60 मंत्री हो सकते हैं और इस लिहाज से अभी 7 मंत्रियों को और शामिल किया जा सकता है।  कोरोना से तीन मंत्रियों चेतन चौहान, कमला रानी वरुण और विजय कश्यप की मौत हो चुकी है।  हाल ही में वीआरएस ले चुके गुजरात काडर के रिटायर्ड आईएएस  एके शर्मा को विधान परिषद सदस्य बनाया गया है। उन्हें मंत्रिमंडल में बड़ा पद मिलने की चर्चा हैं।  बंगाल की तर्ज पर यूपी के आगामी विधानसभा चुनाव में सब कुछ झोंकने की तैयारी के साथ जून से हर महीने कम से कम एक बार राष्ट्रीय अध्यक्ष जेपी नड्डा और गृह मंत्री अमित शाह के दौरे भी होंगे।