प्रतीकात्मक तस्वीर
प्रतीकात्मक तस्वीर

    बाराबंकी (उत्तर प्रदेश): बाराबंकी जिले में फतेहपुर क्षेत्र के एक गांव में दूसरे मजहब के युवक से प्रेम विवाह करने पर एक युवती को उसके परिजनों ने तालिबानी सज़ा दी। युवती के परिजनों ने कथित रूप उसकी पिटाई करने के बाद उसका सिर मुंडवा दिया और उसे गांव में घुमाया। पुलिस ने इस मामले में तीन लोगों को गिरफ्तार कर मामले की छानबीन शुरू कर दी है। 

    पुलिस सूत्रों के अनुसार फतेहपुर कोतवाली क्षेत्र के एक गांव के निवासी 28 साल के युवक का 20 वर्षीय युवती से काफी दिनों से प्रेम प्रसंग था। युवती के माता-पिता की मौत हो चुकी है और वह अपनी दादी के पास रहती है। वहीं युवक के भी माता-पिता नहीं हैं और वह मजदूरी करता है। 

    सूत्रों के अनुसार दोनों ने सोमवार सुबह गांव में स्थित एक धार्मिक स्थल पर विवाह कर लिया। इसकी जानकारी मिलने पर युवती के परिजन और अन्य रिश्तेदार आक्रोशित हो गये। अपर पुलिस अधीक्षक अवधेश सिंह ने बताया कि नवविवाहित युवती का आरोप है कि उसके चाचा तथा कुछ अन्य रिश्तेदार सोमवार रात उसे उसके ससुराल से जबरन अपने घर ले आए और उसे मारा पीटा। साथ ही उसका सिर मुंडवाकर उसे गांव में घुमाया। उ

    उन्होंने बताया कि इस मामले में युवती की तहरीर पर आठ लोगों के खिलाफ मामला दर्ज कर उनमें से तीन को गिरफ्तार कर लिया गया है। अन्य आरोपियों की तलाश जारी है। मामले की छानबीन की जा रही है। (एजेंसी)