File photo
File photo

     उत्तर प्रदेश :  उत्तर प्रदेश (Uttar Pradesh) के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ (Chief Minister Yogi Adityanath) ने बृहस्पतिवार को पश्चिम बंगाल (West Bengal) में तृणमूल कांग्रेस सरकार (Trinamool Congress Government) की आलोचना की और दावा किया कि वह पिछले दस वर्षों में कोई भी सकारात्मक (Positive) बदलाव लाने में विफल रही है। योगी ने यह भी दावा किया कि तृणमूल कांग्रेस की सरकार में पश्चिम बंगाल महिलाओं के लिए सुरक्षित स्थान नहीं है। उन्होंने वादा किया कि भाजपा (BJP) सत्ता में आने के बाद लड़कियों के लिए शिक्षा और परिवहन (Education and transportation) को मुफ्त कर देगी और बंगाल में लड़कियों के विद्यालयों (Girls’ schools) के आसपास आवारागर्दी (Loafing) करने वाले लोगों से निपटने के लिए ‘एंटी रोमियो स्क्वॉड’ का गठन किया जाएगा।

    योगी ने पश्चिम बंगाल के हुगली और हावड़ा जिलों में तीन चुनाव रैलियों को संबोधित करते हुए पूछा, परिवर्तन कहां है जिसका वादा ममता बनर्जी ने दस साल पहले किया था? उन्होंने कहा कि जब एक दशक पहले राज्य में तृणमूल कांग्रेस सत्ता में आई थी, तो उसने ‘मां-माटी-मानुष’ की सेवा करने का वादा किया था, जो इसका नारा बन गया था। उन्होंने पूछा, ‘‘उस नारे का क्या हुआ? मैं ममता बनर्जी से इसके बारे में पूछने आया हूं।

    बंगाल महिलाओं के लिए सुरक्षित स्थान क्यों नहीं है? ” योगी ने बंगाल में भाजपा के सत्ता में लौटने का विश्वास व्यक्त करते हुए कहा कि दो मई को चुनाव परिणामों की घोषणा होने के बाद तृणमूल कांग्रेस के ‘गुंडों’ को जेल भेजा जायेगा। उन्होंने कहा, ‘‘तृणमूल कांग्रेस पश्चिम बंगाल में केन्द्रीय योजनाओं को नहीं लागू होने दे रही है। हिंसा, अराजकता और भ्रष्टाचार ने राज्य को बर्बाद कर दिया है।”