Yogi-adityanath

    लखनऊ. उत्तर प्रदेश के मुख्‍यमंत्री योगी आदित्‍यनाथ (UP CM Yogi Adityanath) ने शनिवार को 18-44 वर्ष आयु वर्ग के लोगों के लिए प्रदेश के 18 जिलों में कोविड टीकाकरण अभियान (COVID-19 Vaccination Campaign) चलाने की घोषणा की। उन्होंने कहा कि अब प्रदेश के सभी 17 नगर निगमों तथा गौतम बुद्ध नगर जिले में सोमवार, 10 मई से टीकाकरण का वृहद अभियान चलेगा। राज्य में फिलहाल एक मई से 18-44 वर्ष आयु वर्ग के लोगों के लिए सात जिलों लखनऊ, कानपुर, प्रयागराज, वाराणसी, गोरखपुर, मेरठ और बरेली में कोरोना टीकाकरण का अभियान चल रहा है।

    अब प्रदेश के सभी नगर निगमों अलीगढ़, आगरा, प्रयागराज, कानपुर, गाजियाबाद, गोरखपुर, झांसी, बरेली, मेरठ, मुरादाबाद, लखनऊ, वाराणसी, सहारनपुर, फिरोजाबाद, मथुरा-वृंदावन, अयोध्‍या, शाहजहांपुर के अलावा गौतमबुद्धनगर जिले में भी इस आयु वर्ग के लोगों के लिए टीकाकरण अभियान शुरू होगा। कोविड प्रबंधन की समीक्षा के लिए मुरादाबाद और बरेली मंडल के दौरे पर निकले मुख्‍यमंत्री योगी आदित्‍यनाथ ने निगरानी समितियों द्वारा किये जा रहे कार्यों का शनिवार को मौके पर निरीक्षण किया।

    बरेली में पत्रकारों से बातचीत में मुख्यमंत्री ने कहा कि कोरोना के खिलाफ वर्तमान में जो देश की लड़ाई चल रही है उसमें सबसे बड़ी आबादी वाला राज्य होने के बावजूद उत्तर प्रदेश प्रभावी ढंग से लड़ाई लड़ रहा है। उन्होंने कहा कि कोरोना को परास्त करने के लिए टीकाकरण सबसे कारगर उपाय है और प्रदेश में 45 साल से ज्यादा उम्र के लोगों को एक करोड़ 45 लाख टीका की खुराक दी जा चुकी है। 18-44 आयु वर्ष वर्ग के एक लाख से अधिक टीके की खुराक दी जा चुकी है।

    योगी ने अपनी सरकार की उपलब्धियां गिनाते हुए कहा, “उत्तर प्रदेश के बारे में आशंका थी कि पांच मई तक रोजाना एक लाख नए मामले आने लगेंगे, लेकिन आज आठ मई है और आज 26,847 नये मामले आये हैं, हम कोविड प्रबंधन में सफल रहे हैं।” उन्होंने कहा, ”दूसरी आशंका व्यक्त की गई थी कि प्रदेश में पंचायत चुनाव के बाद कोविड मामले बढ़ेंगे, पंचायत चुनाव 29 अप्रैल को समाप्त हुआ और लगातार मामलों में कमी आई है।”

    आंकड़ों के जरिये स्थिति स्पष्ट करते हुए योगी ने कहा, “प्रदेश में संक्रमण के सबसे ज्यादा 38,055 मामले 24 अप्रैल को आये और तीन अप्रैल को सबसे ज्यादा 3,10,000 उपचाराधीन मामले थे, लेकिन पिछले आठ दिनों के अंदर (पहली मई से सात मई तक) प्रदेश में संक्रमितों की संख्या में 65 हजार की कमी आयी है और इसमें लगातार सुधार हो रहा है। पिछले एक सप्ताह में बरेली में सक्रिय संक्रमितों की संख्या 2,800 कम हुई है।”

    उन्होंने कहा, “प्रदेश में जहां संक्रमण के ज्यादा मामले थे, वहीं से मैंने समीक्षा की शुरुआत की है। मैंने सोचा कि फील्ड में उतर कर लोगों के मन के भय को दूर किया जाए। कोरोना के प्रोटोकॉल का पालन करने और वर्तमान की रणनीति तय करने के मुरादाबाद मंडल और बरेली मंडल की समीक्षा के लिए आया हूं।”

    वर्तमान में ऑक्सीजन की ज्यादा आपूर्ति का दावा करते हुए उन्होंने कहा कि पहले की अपेक्षा ऑक्सीजन की मांग बढ़ी है। पहले 500 बिस्तरों वाले अस्पताल में 20 से 30 ऑक्सीजन बेड होता था लेकिन आज पांच सौ बेड के अस्पताल में हर व्यक्ति को ऑक्सीजन की आवश्यकता महसूस हो रही है।

    योगी ने कहा कि ऑक्सीजन की मांग कई गुना बढ़ने के कारण विशेष योजना बनाई और प्रधानमंत्री ने ऑक्सीजन की आपूर्ति में मदद की और उन्होंने प्रदेश के लिए 61 नये ऑक्सीजन प्लांट स्वीकृत किये हैं और गन्ना विभाग की ओर से हर जिले में एक ऑक्सीजन प्लांट लगाने की प्रक्रिया शुरू की है।

    मुख्‍यमंत्री ने आश्वास दिया कि प्रशासनिक मशीनरी दूसरी लहर पर अंकुश लगाने में सफल होगी। उन्होंने अपील की कि स्वयं का बचाव करते हुए कोरोना के प्रति व्यापक जागरूकता का कार्यक्रम जरूर चलाएं और अगर आवश्यक नाहो तो घर से बाहर ना निकलें, अगर निकला भी पड़े तो अनिवार्य रूप से मास्‍क लगाएं और दो गज दूरी का पालन जरूर करें। (एजेंसी)