File Photo
File Photo

    बरेली/ एटा (उप्र): उत्‍तर प्रदेश में त्रिस्तरीय पंचायत चुनाव के दौरान रंजिश के कारण होने वाली हिंसक घटनाओं का सिलसिला जारी है। बरेली जिले में दो पक्षों के बीच संघर्ष में जहां एक पूर्व प्रधान की मौत हो गई और सात लोग घायल हो गये वहीं एटा में प्रधान पद की प्रत्याशी के पति को गोली मारी गई। बरेली जिले के भोजीपुरा थाना क्षेत्र के गांव विवियापुर में रविवार देर रात दो पक्षों में हुए चुनावी संघर्ष में पूर्व प्रधान की मौत हो गई और सात लोग घायल हो गए। 

    बरेली के पुलिस अधीक्षक (नगर) रविंद्र कुमार ने सोमवार को बताया कि विवियापुर गांव में पंचायत चुनाव की प्रतिद्वंद्विता को लेकर कहासुनी हुई जिसके बाद विवाद बढ़ गया और गोलीबारी हुई तथा धारदार हथियार भी चले। उन्होंने बताया कि इस विवाद में एक पक्ष से महेंद्र समेत चार लोग धारदार हथियार की चोट से घायल हो गए वहीं दूसरे पक्ष के पूर्व प्रधान नरेंद्र (45) का सोमवार सुबह जंगल में शव मिला। कुमार के मुताबिक नरेंद्र के शव पर गोली लगने और धारदार हथियार से वार किए जाने का निशान है। 

    गांव का माहौल को देखते हुए वहां पुलिस तैनात की गई है। दोनों ही पक्षों के लोग गांव से फरार हैं। इस मामले में पुलिस विधिक कार्रवाई कर रही है। एटा जिले के थाना कोतवाली नगर क्षेत्र के मुख्यालय से सटे ग्राम पंचायत भगीपुर के प्रधान पद प्रत्याशी सुमन यादव के पति प्रवीण कुमार को रविवार रात मास्क पहने हुए बाइक सवार अज्ञात हमलावरों ने तमंचे से गोली मार दी। गोली प्रवीण के हाथ में लगी है और वह गंभीर रूप से घायल है। 

    प्रभारी निरीक्षक कोतवाली (नगर) सुभाष कठेरिया ने सोमवार को बताया कि घटना कोतवाली नगर क्षेत्र के शिकोहाबाद रोड स्थित एयर प्रेशर के पास की है। हाथ में गोली लगने से घायल युवक को ज़िला चिकित्सालय में भर्ती कराया गया, जहां डॉक्टरों ने हालात चिंताजनक देखते हुए हायर सेंटर रेफर कर दिया। पुलिस घटना की जांच कर रही है। परिजनों ने घटना की वजह चुनावी रंजिश बताई है। उन्होंने निवर्तमान प्रधान के खिलाफ नामजद शिकायत दी है। (एजेंसी)