File
File

    नई दिल्ली: उत्तर प्रदेश में अगले साल विधानसभा (Uttar Pradesh Assembly Election 2022) के चुनाव होने हैं। इससे पहले उत्तर प्रदेश के सियासी गलियारों में गहमागहमी मच गई है क्योंकि योगी कैबिनेट (Yogi Cabinet) का विस्तार होने जा रहा है। रिपोर्ट के अनुसार 28 या 29 मई को योगी सरकार के दुसरे मंत्रिमंडल का विस्तार किया जा सकता है।  इसे लेकर आज शाम राज्यपाल आनंदीबेन पटेल (Anandiben Patel) और सीएम योगी आदित्यनाथ (Yogi Adityanath) के बीच बातचीत होने जा रही है।  

    ज्ञात हो कि राज्यपाल आनंदी बेन पटेल लखनऊ में ही हैं ऐसे में सीएम योगी आज शाम उनसे मुलाकात करने जा रहे हैं। सूबे में कैबिनेट विस्तार के बीच खबरें है कि पूर्व आईएएस अधिकारी एके शर्मा को डिप्टी मुख्यमंत्री बनाया जा सकता है। जबकि केशव प्रसाद मौर्य को यूपी भाजपा की कमान सौंपी जा सकती है। जिससे बीजेपी जनता को ओबीसी चेहरे के रूप में मौर्य को प्रेजेंट कर चुनाव में उतर सकती है। हालांकि इन बातों को लेकर सिर्फ कयास लग रहे हैं। इसे लेकर कोई औपचारिक बयान सामने नहीं आया है।

    वहीं कैबिनेट विस्तार की खबर सामने आने के बाद सियासी चर्चाओं का बाजार गर्म है और लोग अपने अपने तरीके से कयास लगा रहे हैं। कुछ लोगों का कहना है कि सीएम योगी राज्यपाल से मिलकर प्रदेश के जिलों के अपने दौरों की रिपोर्ट देंगे, लेकिन सियासत के जानकार और राजनीतिक परिस्थितियां इससे सहमत नहीं दिखाई पड़ रही हैं।