आज का भविष्य,  शनिवार, 10 अक्टूबर 2020

आज का भविष्य– शनिवार 10 अक्टूबर 2020
आज जन्म लिये बालक का फल–
आज जन्म लिया बालक सुन्दर, सुशील, अपने कार्यों के प्रति सजग रहने वाला परोपकारी तथा दयालु स्वभाव का होगा। शिक्षा उत्तम रहेगी। नौकरी में अच्छी सफलता प्रा्रप्त करेगा। माता पिता को सुखी रखेगा।
मेष– आपके करीबी लोग आपको मजधार में छोड़ देगें। प्रेम संबंधी मामलों में प्रगाढ़ता आयेगी। शिक्षा से संबंधित कामकाज में परिश्रम अधिक करना होगा।
वृषभ– भावनाओं पर काबू रखकर व्यवहारिक निर्णय करें। अविवाहित वैवाहिकबंधन में बंध सकते हैं। शत्रु वर्ग पराजित होगां प्रियजनों के कारण भावनात्मक कष्ट होगा।
मिथुन– जोखिम के कार्यों से दूर रहें। चापलूस लोगों के कारण परेशानी होगी। पारिवारिक सुखों की प्राप्ति हागी। कामकाज में मानसिक रूप से व्यस्त रहना होगा। सम्मान मिलेगा।
कर्क– बच्चों के केरिअर और पढ़ाई की चिंता रहेगी। शांति से अच्छे समय का इंतजार करें। अस्वस्थ्यता एवं आलस्य का अनुभव होगा। कामकाज के प्रति मन में उदासीनता रहेगी।
सिंह– समय की मांग के अनुसार काम में बदलाव करना पड़ सकता है। संतान पक्ष से सहयोग रहेगा। आपके मनोनुकूल कार्यक्रम बनने का योग है। प्रियजन से पीड़ा हो सकती है।
कन्या– प्रतियोगी परीक्षा को लेकर चिंता रहेगी। पारिवारिक समस्या के समाधान के अवसर बढे़ंगे। उत्तरदायित्वों की पूर्ति होगी। स्थान परिवर्तन की संभावना है। बुद्धि का विकास होगा।
तुला– आपको अधिकारी की कटौती का मलाल रहेगा। मित्रों की सलाह पर विचार करें। नवीन योजनाओं का विस्तार होगा। प्रगतिवर्धक समाचार मिलेंगे। आय से अधिक धन व्यय होगा।
वृश्चिक– सुविधा के सामान पर खर्च अधिक होगा। कामकाज में शिथिलता रहेगी। अरूचि का अनुभव होगा। अतिथि आगमन का योग है। व्यय पर नियंत्रण रखें।
धनु– देखरेख के अभाव में कोई अच्छी योजना हाथ से निकल सकती है। धैर्य से काम लेना लाभकारी है। व्यर्थ की चिंता दूर होगी। महिला जाति की सलाह लाभदायक रहेगी।
मकर– युवाओं को बेहतर अवसर प्राप्त होंगे। मन की अभिलाषा पूरी होगी। पारिवारिक दायित्वों की पूर्ति होगी। कुटुम्बियों से सहयोग मिलेगा। मित्र मिलन का योग है।
कुम्भ– देनदारी के चलते आपसी विवाद बढे़गा। नजदीकी लोगों के कारण परेशानी होगी। कार्यों में अच्छी सफलता प्रापत होगी। भाई के साथ संबंधों में मधुरता रहेगी।
मीन– आप अपनी बात मनवाने का भरपूर प्रयास करेंगे। भूमि संपत्ति वाहन आदि का प्रयोग करते समय सावधानी रखें। कोर्ट कचहरी के कार्यो में आपके पक्ष में निर्णय होंगे।
व्यापार-भविष्य–
द्वितीय आश्विन कृष्ण अष्टमीं को पुनर्वसु नक्षत्र के प्रभाव से सोना, चांदी, तांबा, पीतल, लोहा और शेयर, बिनौला, जीरा, धनियां, लालमिर्च, हल्दी, मैथी के भाव में तेजी का रूख रहेगा। गुड, खांड में नरमी की चाल चलेगी। भाग्यांक 3715 है।