If you are troubled by money, then offer it to mother

-सीमा कुमारी

हिन्दु धर्म में पान को शुभ एवं पवित्र माना जाता है. हर शुभ कार्य में पान का प्रयोग होता है. चाहे घर में होने वाली पूजा पाठ हो या मंदिर में होने वाले हवन या यज्ञ सभी मांगलिक अनुष्ठान  में पान का प्रयोग होता है.  पान के पत्ते के जरिए भगवान को नमन किया जाता है.  धर्म शास्त्रों के अनुसार देवताओं द्वारा समुद्र मंथन के समय पान के पत्ते का प्रयोग किया गया था. अगर आप नवरात्रि के दिनों में देवी मां की कृपा पाने के लिए पान का प्रयोग पूजा में करते है तो देवी माँ की कृपा आप पर बनी रहेगी और आप के सभी बिगड़े काम बनने लगेंगे. तो आइए जानते है पान के कुछ ऐसे उपाय जिससे आपको जीवन में सुख-शांति मिलेगी.

  • यदि आपके बनते-बनते हुए काम बिगड़ रहे हैं तो आप एक पान का पत्ता अपने पॉकेट में डालकर घर से निकले. ऐसा करने से आपके सभी बिगड़े हुए काम बनने लगेगें .
  • सुबह श्रीगणेश के मंदिर में जाकर एक पान के पत्ते पर सिंदूर में घी मिलाकर स्वस्तिक बनाएं. अब उस पर कलावे में एक सुपारी लपेटकर रखें. यह श्रीगणेश स्वरूप मानी जाती है. इससे आपके सारे काम बनते जाएंगे और पैसा आएगा.
  • पान का पत्ता नकारात्मक उर्जा को दूर करने वाला और सकारात्मक ऊर्जा को बढ़ाने वाला भी माना जाता है. इसलिए नजर लगे व्यक्ति को पान में गुलाब की सात पंखुड़ियां रखकर खिलाएं .
  • अगर भगवान शिव को विशेष पान अर्पित किया जाए तो हर तरह की मनोकामना पूर्ण होती है.
  • मंगलवार या शनिवार के दिन हनुमानजी को विशेष पान चढ़ाएं. इस दिन तेल, बेसन और उड़द के आटे से बनाई हुई हनुमानजी की मूर्ति की प्राण-प्रतिष्ठा करके तेल और घी का दीपक जलाएं तथा विधिवत पूजन कर पूआ, मिठाई आदि का भोग लगाएं. इसके बाद 27 पान के पत्ते तथा गुलकंद, सौंफ आदि मुख शुद्धि की चीजें लेकर इनका बीड़ा बनाकर हनुमानजी को अर्पित करें .
  • यदि आप रविवार को एक पान का पत्ता लेकर घर से बाहर निकलेंगे तो आपके रुके हुए सभी कार्य संपन्न होना शुरू हो जाएंगे .