Loading

शारदीय नवरात्र का आज चौथा दिन है। ये दिन माता के चतुर्थ स्वरूप देवी कूष्मांडा का है। मान्यताओं के अनुसार देवी भागवत में बताया गया है कि सृष्टि की उत्पत्ति से पहले जब चारों ओर अंधकार ही अंधकार था और सृष्टि बिल्कुल शून्य थी तब आदिशक्ति मां दुर्गा ने अंड रूप में ब्रह्मांड की रचना की। इसी कारण देवी का चौथा स्वरूप कूष्मांडा कहलाया गया। इनके बारे में अधिक जानने के लिए देखिये पूरी वीडियो....