marriage

    नयी दिल्ली. एक बड़ी खबर के अनुसार, ब्राजील (Brazil) के इबिराइट (Ibirite City) शर से एक बड़ा ही अजीबोगरीब और चौंकाने वाला मामला सामने आया है, जिसके अनुसार शादी की पहली रात यौन संबंध (Sexual Relation)  बनाने के दौरान एक 18 साल की महिला की दिल का दौरा पड़ने से मौत (Woman died while having sex on her wedding night after Heart Attack) हो गई है। इधर पुलिस ने यह भी दावा किया है कि दुल्हन के शरीर पर किसी तरह के हिंसा के कोई भी निशान नहीं मिले हैं और नाविवाहिता की दुखद मौत को अब आकस्मिक माना जा रहा है।

    दरअसल घटना के अनुसार शादी की पहली रात यौन संबंध बनाने के दौरान एक 18 साल की महिला को दिल का दौरा (Heart Attack) पड़ गया, जिसके चलते अस्पताल ले जाने के दौरान ही उसकी मौत हो गई। वहीं ‘द सन’ की रिपोर्ट के अनुसार मानें तो, पुलिस ने यह भी बताया कि यहाँ 18 वर्षीय महिला की एक 29 साल के युवक के साथ शादी हुई थी और अचानक रात को वह अस्वस्थ महसूस करने लगी। इसके बाद वहीं जमीन पर गिर गई। इसके बाद डरते हुए महिला के पति ने अपने पड़ोसी को कॉल किया और अस्पताल जाने के लिए उन्हें तुरंत टैक्सी का इंतजाम करने को कहा।

    वहीं कुछ मीडिया रिपोर्ट्स के अनुसार, पहले एक टैक्सी ड्राइवर ने महिला की हालत देख उसे अस्पताल ले जाने से साफ़ मना कर दिया। फिर जब दूसरी टैक्सी बुलाई तो उसके ड्राईवर ने भी मदद से इनकार करते हुए कहा कि अप आपातकालीन सेवाओं को कॉल करें। इस घटना पर पति का दावा है कि एंबुलेंस आने में करीब एक घंटा का लम्बा समय लग गया और इस कारण उनकी पत्नी की मौत हो गयी। वहीं आपातकालीन सेवाओं ने यह बयान दिया कि पहली एंबुलेंस कैंसल हो गई और दूसरी 21 मिनट के भीतर आ गई। रिपोर्ट के अनुसार, जब तमाम परेशानियों के बीच पैरामेडिक्स उस शादीशुदा जोड़े के घर पहुंचे, तब उक्त महिला की सांसें चल रही थी, लेकिन अस्पताल ले जाने के दौरान ही उसकी मौत हो गई।

    इधर पोस्टमॉर्टम में यह पाया गया कि महिला का ब्रोंकाइटिस (Bronchitis) का इतिहास रह चूका था, जो श्वासनली में होने वाली एक प्रकार से सूजनकारी बीमारी है। चिकित्सा शास्त्र के अनुसार श्वासनली (Trachea) से फेफड़ों में हवा ले जाने वाली नलियों को श्वसनी (Bronchi) कहते है। लेकिन इस बीमारी में ब्रोंकी की दीवारें इन्फेक्शन और सूजन की वजह से अनावश्यक रूप से बहुत कमजोर हो जाती है, जिसकी वजह से इनका आकार गुब्बारे की तरह हो जाते है। इसी सूजन के चलते सामान्य से अधिक बलगम भी बनने लगता है।

    इधर पुलिस का इस पुरे मामले में कहना था कि, दुल्हन के शरीर में कहीं किसी तरह की हिंसा के कोई निशान नहीं थे और उसकी दुखद मौत को अब आकस्मिक ही माना जा रहा है। वहीं इस घटना पर पड़ोसी ने भी पुलिस को यह बयान दिया कि महिला की मौत से पहले उसने कोई चीख या शोर अभी तक नहीं सुना था।