मैथ टेस्ट में फेल हुआ दूल्हा, नहीं सुना पाया दो का पहाड़ा तो मंडप से चली गई दुल्हन

    महोबा (उप्र): ऐसा बहुत कम देखने या सुनने मिलता है कि किसी दुल्हन ने शादी के मंडप में जाकर शादी के लिए माना किया हो और दूल्हे को रिजेक्ट कर मंडप छोड़कर चली गई हो। ऐसा ही कुछ हुआ है उत्तर प्रदेश में, जहां दूल्हे के 2 का पहाड़ा न सुनाने पर दुल्हन ने शादी से इंकार कर दिया और समाज के सामने मंडप से चली गई। दूल्हा भी शायद यह सोचते ही रह गया होगा कि मैथ टेस्ट में फेल होना उसके लिए इतना भारी पड़ सकता है। 

    दरअसल, शनिवार की शाम दूल्हा (Bride) अपनी ‘बारात’ के साथ शादी के मंडप में पहुंचा। दुल्हन को उनकी पढ़ाई-लिखाई पाक शक था, इसलिए दुल्हन ने जयमाला का आदान प्रदान होने से पहले, दूल्हे को 2 का पहाड़ा सुनाने के लिए कहा। दूल्हा पहाड़ा सुनाने में असफल रहा, जिसके बाद शादी को रोक दिया गया।

    पनवारी स्टेशन हाउस अधिकारी, विनोद कुमार ने बताया कि, यह एक अरेंज मैरिज थी और दूल्हा महोबा जिले के धवार गांव का रहने वाला था। दुल्हन ने मंडप से बाहर निकलते हुए कहा कि वह किसी ऐसे व्यक्ति से शादी नहीं कर सकती, जिसे गणित की मूल बातें पता नहीं हैं। जबकि उसके दोस्त और रिश्तेदार ने दुल्हन को समझाया लेकिन, दुल्हन के फैसले के सामने किसी की एक न चली। 

    इसके अलावा दुल्हन के चचेरे भाई ने कहा कि वे यह जानकर चौंक गए कि दूल्हा अशिक्षित था। उसने कहा, “दूल्हे के परिवार ने हमें उसकी शिक्षा के बारे में अंधेरे में रखा था और उन्होंने हमें धोखा दिया है। पर उनकी बहादुर बहन ने बिना समाज की परवाह किए शादी के लिए माना किया और वहां से चली गई। दोनों पक्षों द्वारा गांव के प्रमुख नागरिकों के हस्तक्षेप पर समझौता करने के बाद पुलिस ने मामला दर्ज नहीं किया। जिसके बाद यह निर्णय लिया गया कि दूल्हा और दुल्हन के परिवार वाले उपहार और आभूषण वापस लौटा देंगे।