बुढ़ापे में बच्चों ने छोड़ा साथ, अब सड़क पर पेंटिंग्स बेचकर रोटी कमाने को मजबूर है बुजुर्ग पिता

    कोरोना संक्रमण (Coronavirus) में बीच लगे लॉकडाउन (Lock Down) ने डेली रोजी-रोटी कमाने वालों की मुश्किलें बढ़ा दी हैं। उनके जीवनयापन का जरिया ही छीन चूका हैं, अब ये लोग भगवान भरोसे ही अपनी जिंदगी काट रहे हैं। दरअसल सोशल मीडिया पर एक ऐसे पिता की कहानी वायरल हो रही है, जिसके बच्चों ने उन्हें दर-दर की ठोकरें खाने के लिए छोड़ दिया। बता दें कि, ये मजबूर पिता दो वक्त की रोटी के लिए सड़क किनारे पेंटिंग्स बेचते थे लेकिन कोरोना महामारी और लॉकडाउन के इस दौर में वे एक वक्त का खाना भी नहीं जुटा पा रहे हैं। ऐसे में एक ट्विटर यूजर ने इस बुजुर्ग आर्टिस्ट की मदद के लिए ट्वीटर पर एक पोस्ट शेयर की है और लोगों से मदद की अपील की है।

    ट्विटर यूजर @Sajeda_Akhtar ने यह तस्वीरें और कहानी ट्विटर पर शेयर की। उन्होंने लिखा, ‘आर्टिस्ट सुनील पाल (Kolkata Artist Sunil Pal) कोलकाता के गोल पार्क स्थिति Axis Bank के सामने अपनी अद्भुत कलाकृतियों के साथ बैठते हैं। उनके बच्चों ने उन्हें छोड़ दिया है। इसलिए वो जीवनयापन के लिए पेंटिंग्स बना उन्हें 50-100 रुपये में बेचते हैं। इन दिनों रोटी कमाना मुश्किल हो गया है। अगर आप कोलकाता में हैं तो कृपया उनकी पेंटिग्स खरीदें।’

    उन्होंने अपने अगले ट्वीट में लिखा ‘ध्यान रहे कि सुनील पाल ज्यादातर बुधवार और शनिवार को वहां होते हैं। उनके पास खरीदारों की भारी कमी है। ऐसे में कृपया उनके लिए खरीदें, और आर्ट के साथ-साथ आर्टिस्ट को बचा लें।’ बता दें कि, यह ट्वीट सोशल मीडिया पर तेजी से वायरल हो रही है। अब तक 16 हजार से अधिक लाइक्स और 6 हजार से ज्यादा रीट्वीट मिल चुके हैं। साथ ही, सैकड़ों लोगों ने इस पर कमेंट कर रहे हैं।

    गौरतलब है कि इससे पहले 7 नंवबर 2020 को ट्विटर यूजर @aarifshaah ने यह तस्वीर शेयर करते हुए लिखा था, ‘ये हैं सुनील पाल, वो आर्टिस्ट हैं। वो कोलकाता के गोल पार्क स्थित एक्सिस बैंक के पास अपनी पेंटिंग्स बेचते हैं। उनकी उम्र तकरीबन 80 साल है। उनके बच्चों ने उन्हें छोड़ दिया है। इन दिनों उनके पास ग्राहक भी नहीं आते। उनकी पेंटिंग भी 50 से 100 रुपये तक की होती हैं। कृपया इनकी पेंटिंग खरीदें और उनकी मदद करें।