canto

  • जमीन से 10 फीट नीचे किया एक बेडरूम और एक लिविंग रूम का निर्माण.

मैड्रिड. आपने सुना होगा बच्चे घर पर माँ बाप से अक्सर झगड़ा करने के बाद गुस्सा हो जाते हैं, फिर माँ-बाप उसे उसकी मनपसंद चीज देकर मना भी लेते है। लेकिन स्पेन में मामला ही कुछ और है, यहाँ रहने वाले 14 साल के एक बच्चे ने अपने माता-पिता से झगड़े के बाद घर के बागीचे में ही अपना अंडरग्राउंड घर बना लिया। ख़बरों की मानें तो इस घर को बनाने में इस बच्चे को लगभग 6 साल लगे। हालाँकि इन 6 सालों की मेहनत के बाद अब 20 साल के हो चुके एंड्रेस कैंटो (Andres Canto) ने अपनी जी तोड़ मेहनत और दमखम से जमीन से 10 फीट नीचे एक बेडरूम और एक लिविंग रूम का निर्माण कर लिया  है।

माता-पिता से झगड़े के बाद ऐसे निकाला अपना गुस्सा:

इस घटना पर अपेन के एंड्रेस कैंटो (Andres Canto) ने बताया कि जब वह 14 साल का था तो उसका अपने माता-पिता के साथ किसी मामूली बात को लेकर झगड़ा हो गया था। फिर इतनी छोटी उम्र में वह घर छोड़कर कहीं दूसरी जगह जा भी तो नहीं सकता था। इसलिए, वह रहा तो अपने घर पर ही, लेकिन अपनी हताशा दूर करने के लिए फिर एंड्रेस ने अपने दादाजी का फावड़ा लेकर बागीचे की जमीन पर गुस्से से हमला करना शुरू कर दिया और उससे खोदता रहा ।

अपने अंडरग्राउंड घर तक जाने के लिए बनाई सीढ़ियां भी:

इसके बाद तो जैसे यह रोज का काम हो गया और 14 साल की उम्र में एंड्रेस रोज फावड़ा लेकर बागीचे की जमीन में गड्ढा खोदने लगा। कुछ दिनों में यह उसका जूनन बन चूका था और उसने 6 साल बाद जमीन को खोद-खोद कर खुद के लिए एक बेहतरीन अंडरग्राउंड गुफा का निर्माण कर लिया। इतना ही नहीं जमीन से 10 फीट नीचे बने इस अनोखे और बेहतरीन लिविंग रूम और बेडरूम तक जाने के लिए मिट्टी को काटकर सीढ़ियां बनाई गई हैं, जो खुद एंड्रेस ने बनायीं है।

Courtsey : TCS Noticias

खुद को शांत रखने के लिए करते थे खुदाई :

अब एक अच्छे एक्टर बन चुके एंड्रेस कैंटो ने कहा कि स्पेन के ला रोमाना शहर में रहते हुए उन्हें यह नहीं पता कि इस अंडरग्राउंड घर को बनाने का आईडिया उन्हें आया कैसे। लेकिन, हाँ इतना जरुर है कि उन्होंने खुद को शांत रखने और बिजी करने के लिए अपने समय का उपयोग इस गड्ढे को खोदने में ही किया। स्कूल के बाद जब रोज शाम को वह अपने घर वापस लौटते थे तो अपने समय का उपयोग करने के लिए वे बागीचे में गड्ढे की खुदाई करने में बिताते थे।

Pic : Twitter

परेशानियां भी नहीं तोड़ पाईं उनका हौसला :

बाद में जैसे जैसे यह गड्ढा अपना आकार लेने लगा तब एंड्रेस का दोस्त आंद्रेयू कहीं से एक ड्रिल लेकर आया। अब इस मशीन के आ जाने से खुदाई का काम और भी ज्यादा आसान हो गया था। जिसके बाद इन दोनों दोस्तों ने सप्ताह में 14 घंटे इसी गड्ढे को खोदने में बिताया। उन्होंने यह भी बताया कि कई बार उन्हें ऐसी परेशानियों का सामना करना पड़ता था जिसके कारण उन्हें अपनी यह खुदाई रोकनी पड़ती थी। कभी-कभी तो घंटों की खुदाई के बाद रास्ते में पत्थर का बड़ा टुकड़ा आने के कारण उन्हें पीछे हटना पड़ता था। लेकिन इन लोगों ने अपना होंसला बनाये रखा और जमीन से 10 फीट नीचे एंड्रेस ने अपना आशियाना बना ही लिया।