इंसान के पेशाब से बनी बीयर, बनाने में लगा पूरा 50 हजार लीटर यूरिन, जानें ब्रांड और कंपनी का नाम

    नई दिल्ली: दुनियाभर में बीयर (Beer) पीने वालों की कोई कमी नहीं है। किसी भी पार्टी या समारोह में लोग चिल्ड बीयर (Chilled Beer) अपने दोस्तों के साथ पीना काफी पसंद करते हैं। यह भी उनके चॉइस पर डिपेंड करता है कि वह कौनसे ब्रांड का बीयर पीना पसंद करेंगे। लेकिन, अगर कभी आपको पता चला कि जो बीयर आप पी रहे हैं वह इंसानों के पेशाब (Human Urine Beer) से बनी है, तो आपका क्या रिएक्शन होगा? शायद बहुत से लोगों का बीयर से लगाव कम हो जाएगा, या फिर कुछ लोग इसे पीना ही बंद कर देंगे। जी हां, ये बात बिल्कुल सच है की Pisner नाम की कंपनी इंसान की पेशाब से बीयर बनाती है। यह इस कंपनी का नया कॉन्सेप्ट है, जिसके बारे शायद ही लोगों को पता है। 

    ऐसे में बहुत से लोग हैं जो Pisner ब्रांड की बीयर पी है। तो आपको यह जानकर हैरानी होगी कि अपने असल में इंसान की पेशाब को पिया है। Pisner के नाम में ही Pis है, जिसका मतलब पेशाब होता है। एक रिपोर्ट के अनुसार, कुछ साल पहले इस कंपनी ने एक म्यूज़िक कॉन्सर्ट से इंसानों का 50 हजार लीटर यूरिन इकठ्ठा किया था, जिसके बाद ही उन्होंने अपनी बीयर लॉन्च की थी। वैसे यह कंपनी पूरे प्रोसीजर के साथ यह बीयर बनती है। 

    कंपनी की मानें तो, जब Pisner ने यह बीयर लॉन्च कि तो बहुत से लोगों को लगा कि कंपनी सीधे लोगों को इंसानों का यूरिन पीला रही है, लेकिन ऐसा बिलकुल नहीं है। कंपनी इसे बनाने के लिए एक पूरा प्रोसेस करती है। कंपनी के मुताबिक, वह इंसान की पेशाब को अपने प्रोडक्ट में जरूर इस्तेमाल करते हैं। अगर यह यूरिन की तरह जरा सा भी टेस्ट देता है, तो हम इसे बंद कर देंगें। लेकिन, इसे पीने के बाद आपको जरा भी पता नहीं चलेगा कि यह एक यूरिन बीयर है।

    डेनमार्क की कृषि और खाद्य परिषद ने इस बीयर के बारे में कहा कि, ह्यूमन वेस्ट को इतने बड़े पैमाने पर फर्टिलाइजर कर इस तरह इस्तेमाल करना एक नया कॉन्सेप्ट है। इसे पूरे प्रोसीजर को “beercycling” कहा जाता है। ऐसे में अगली बार आप ध्यान रखें कि आप कौनसी ब्रांड का बीयर पी रहे हैं, क्योंकि हो सकता है आप किसी का यूरिन अपने मुंह लगा रहे हैं।