सोने की फरारी कार सोशल मीडिया पर हुई वायरल, आनंद महिंद्रा ने वीडियो शेयर करते हुए लिखा कुछ खास

    नई दिल्ली : संसार में पैसा बहुत बड़ी चीज है। इंसान दिन रात काम करता है क्यों की वो ज्यादा से ज्यादा पैसा कमा सके। वर्तमान में हर एक इंसान पैसों के पीछे भाग रहा है। पैसों से शायद सब कुछ खरीदा जा सकता है। हालांकि कुछ ऐसा भी होता है, जो पैसे से नहीं खरीदा जा सकता। लेकिन फिर भी पैसा जिंदगी जीने के लिए बहुत अहम चीज है। लेकिन दिक्कत ये है कि कइयों के पास पैसा है नहीं और जिनके पास भरपूर पैसा है वो उसे बेकार के शौक में जाया करते रहते हैं। ऐसा ही एक वीडियो सोशल मीडिया पर वायरल हो रहा है जिसमें एक बंदे को सोने की कार चलाते देखकर लोग हैरान हो रहे हैं। 

    उद्योगपति आनंद महिंद्रा ने इस वीडियो को अपने ट्विटर अकाउंट पर शेयर किया है। वीडियो अमेरिका का है जहां एक भारतीय अमेरिकी शख्स सोने से बनी फरारी कार में बैठता दिख रहा है। सोने से बनी इस कार में बैठ रहे शख्स की मदद के लिए कई शोफर हैं और ये शख्स हंसते हुए कार में बैठकर चला जाता है।

    आनंद महिंद्रा ने कही काम की बात

     

    आनंद महिंद्रा ने इस वीडियो को शेयर करते हुए लिखा है कि उनको समझ नहीं आ रहा है कि ये वीडियो सोशल मीडिया पर क्यों देखा जा रहा है। यह सबक है कि जब आप अमीर हो जाएं तो आपको कहां पैसा खर्च नहीं करना चाहिए।

    वायरल वीडियो को लाखों लोगों ने देखा

    आम चीजों से कुछ अलग होता है, तो उसे देखना या चर्चा में रहना तो आम बात है। वीडियो को अब तक दो लाख से ज्यादा बार देखा जा चुका है। इस पर जमकर कमेंट्स आ रहे हैं। हालांकि कुछ लोगों ने कमेंट्स में कहा है कि ये सोने की कार नहीं है, इस पर ग्लिटर किया गया है। कई कार वाले अपनी कार को फैंसी लुक देने के लिए इस तरह के ग्लिटर का उपयोग करते हैं। एक यूजर ने तो यहां तक लिख दिया है – महिंद्रा जी आप भी अपनी महिंद्रा गाड़ी को गोल्ड में रैप करवा सकते हैं।

    लोगों ने किये अलग-अलग कमेंट्स

    एक शख्स ने लिखा है – पैसा मुश्किल वक्त में काम आता है, इसे जाया नहीं करना चाहिए। एक यूजर ने लिखा है – पैसे का दिखावा भी इंसान को मुश्किल में डाल सकता है। एक यूजर ने लिखा है – शौक बड़ी चीज है।

    जहां तक इसपर बात की जाएं तो ये सही है, की पैसा हमारे जीवन जीने के लिए बेहद जरुरी साधन है। ऐसे मे हम अगर किसी गैरजरूरी चीजों पर इतना ज्यादा पैसा खर्च करते है, तो ये गलत है। पैसों को सही मायनो में जहां जरूरत है वही खर्च करना चाहिए। पर शोक बहुत बड़ी चीज होती है। ये भी अपनी जगह सही है। सबकी अपनी अपनी व्यक्तिगत इच्छाएं होती है की किसे कहां और कैसे अपने पैसे खर्च करने है। जहां तक बात है हमारी, तो यह हमारे सोच पर निर्भर है की हम इससे क्या सिख लेते है।