DOG

    मेरठ. एक बड़ी ही चौंकाने वाली खबर के अनुसार मेरठ के मवाना रोड स्थित डेयरी फार्म में चौकीदारी ( Watchman ) करने वाले नागालैंड (Nagaland ) के लोगों से अब वहां के आवारा कुत्ते (Street Dog) खौफ में हैं। बताया जा रहा है कि ये चौकीदार आवारा कुत्तों का कथित रूप से शिकार कर अब उनका मीट खाते हैं। विदित हो कि नागालैंड में आवारा कुत्तों का मीट बड़े चाव से खाया जाता है। इतना ही नहीं नागलैंड में कुत्तों का मीट वहां के लजीज व्यंजनों में प्रमुखता की हैसियत रखता है। 

    दरअसल मेरठ के मवाना रोड स्थित एक डेयरी फार्म में नागालैंड के लोग चौकीदारी का काम करते हैं। इसी डेयरी फार्म से सटे पांडवनगर मोहल्ले के लोगों का अब कहना है कि इस फार्म के चौकीदार दीवार फांदकर आते हैं और यहां से कुत्तों को उठाकर आराम से ले जाते हैं। पिछले कई महीने से इस क्षेत्र के आवारा कुत्ते अपने आप ही ऐसे गायब हो रहे हैं। अब यहाँ के हिंदू जागरण मंच ने इस पूरे मामले की जांच कर इस पर कार्रवाई की मांग की है।

    इस मुद्दे पर एनिमल केयर सोसाइटी के अंशुमाली वशिष्ठ ने बताया कि उन्हें देर रात सूचना एक मिली कि मवाना रोड स्थित डेयरी फार्म के अंदर पांडवनगर से लगी दीवार के सहारे एक कुत्ता लोहे के तार में फंसाया हुआ होने की खबर मिली। जिसको डेयरी फार्म के अंदर रहने वाले कुछ नागालैंड निवासी चौकीदारों ने मारने के लिए ही बांध के रखा था। 

    इसके बाद मोहल्ले के लोगों ने बड़ी मुश्किल से तार और लोहे की जाली काटकर उसे बहार निकाला। तभी सूचना मिलने पर पुलिस फोर्स भी आ गई। इसके बाद पुलिस से उक्त डेयरी फार्म में रहने वाले नागालैंड निवासियों को गिरफ्तार करने की मांग की गई। जब मोहल्ले में फसाद बढ़ा तो काफी हंगामे के बाद डेयरी फार्म के अंदर से अधिकारी आए और उन्होंने इसकी बात की निंदा की। इसके साथ ही आगे से ऐसी कोई भी घटना नहीं होने का भरोसा भी दिया। इसके साथ ही अधिकारियों को रिपोर्ट भेजकर कड़ी कार्रवाई की भी बात कही। इधर मोहल्लेवासियों का यह भी कहना है कि कुत्तों को इस प्रकार पकड़ने और उन्हें मारकर खाने का सिलसिला बीते काफी महीनों से चल रहा है। लेकिन प्रशासन और पुलिस सब कुछ जानकार भी मौन है।