13 महीने इलाज के बाद सही सलामत घर पहुंची दुनिया की सबसे छोटी बच्ची, महज इतना था वजन

    सिंगापुर : कहां जाता है कि जन्म और मृत्यु हमारे हाथ में नहीं है। आज हम आपको एक ऐसी सच्ची घटना के बारे में बताने वाले है। जिसे सुनकर आप भी कहेंगे कि हां जन्म और मृत्यु हमारे हाथ में नहीं है। जब इंसान दुखों में घिर जाता है, तो एक पल के लिए उसे लगता है कि यह अंत है लेकिन कभी-कभी यह अंत ना होते हुए एक नई शुरुआत होती है। 

    जन्म के 4 महीने पहले पैदा हुई थी बच्ची 

    आपको बता दें कि सिंगापुर में 13 महीने पहले दुनिया की सबसे कम वजन वाली बच्ची ने जन्म लिया है। करीब 13 महीने अस्पताल में लिहाज के बाद वह नन्ही प्यारी बच्ची सही सलामत अपने घर पहुंची है। आपको जानकर हैरानी होगी फिर भी आपको बताते है।  जब यह बच्ची जन्मी थी तब उसका वजन मात्र 212 ग्राम था। यानी उस बच्ची का वजन एक सेब जीतना था।

    आपको बता दें कि इस बच्ची का नाम क्वेक यू शुआन है। यह बच्ची पिछले साल यानी 2020 में 9 जून को सिंगापुर के नेशनल यूनिवर्सिटी हॉस्पिटल में पैदा हुई थी। बीबीसी की एक रिपोर्ट के मुताबिक यह जानकारी है की यह बच्ची गर्भधारण करने के महज 25 हफ्ते बाद ही पैदा हुई थी, यानी बच्ची अपने जन्म के तय समय से चार महीने पहले पैदा हुई थी। 

     

    नर्स ने कहां…. 

    आपको बता दें कि जब यह बच्ची जन्मी उस समय उसकी लंबाई सिर्फ 24 सेंटीमीटर थी। बच्ची इतनी छोटी थी की उसे नवजात गहन चिकित्सा ले जाया गया। वहां की नर्स यह देख बेहद हैरान हो गई उसे अपनी आंखों पर भरोसा नहीं हो रहा था। तब नर्स ने कहां कि मैंने अपने पुरे 22 साल के करियर में ऐसा मामला नहीं देखा।  इतनी छोटी बच्ची पहली बार देख रही हू। 

    बच्ची की हालत थी बेहद नाजुक 

    क्वेक यू शुआन नमक इस बच्ची को 13 महीने तक आईसीयू में रखा गया था। यह सोच के भी रूह कांप जाती है की इस नन्ही बच्ची का दुनिया में आने का सफर इतना तकलीफों से भरा होगा। एक समय ऐसा आया जब बच्ची की तबियत और ज्यादा बिगड़ गयी थी। यहां टॉक की उसे वेंटिलेटर पर रखना पड़ा था। ऐसा खान जा रहा है की यह बच्ची प्रिमच्योर केस में दुनिया की सबसे छोटी बच्ची है। इस बच्ची ने जंग जित ली है अब बच्ची स्वस्थ है।