इंसानियत शर्मसार! 10 साल तक लोहे की जंजीर में कैद रहा ‘वो’, जानवरों जैसा किया जाता था सलूक

    अंबाला: दुनियाभर से कई तरह के अजीबोगरीब मामले सामने आते हैं, लेकिन हरियाणा (Haryana) के अंबाला (Ambala) से एक बेहद ही दर्दनाक खबर सामने आई है। जिसे सुनकर आपके पैरों तले जमीन खिसक जाएगी। यहां एक शख्स को उसके ही परिवार वालों ने उसे लोहे की जंजीर में बांध रखा है, वो भी एक दो दिन के लिए नहीं बल्कि 10 सालों के लिए। शख्स के परिवार वाले उसके साथ जानवरों जैसा व्यवहार करते थे। 

    दरअसल, अंबाला के फतेहपुर गांव का रहने वाला यह शख्स दिमागी तौर से बीमार है का है। इसी वजह से परिवार ने अपने मंदबुद्धि बेटे को करीब 10 सालों से जंजीरों से जकड़कर रखा था। परिवार की आर्थिक स्थिति ठीक न होने की वजह से उसका इलाज नहीं करवाया जा रहा था। वहीं उसकी देखभाल करने के लिए भी परिवार ने अपने हाथ खड़े कर दिए थे और इसे बेड़ियों में बांध रखे थे। 

    फिर जब गांव वालों ने इस बात की सूचना आशियाना आश्रम नाम की संस्था को दी तब वह युवक के गांव पहुंच गए उसकी मदद के लिए। जहां उन्होंने शख्स को लोहे की जंजीर से मुक्त किया। संस्था की टीम के सदस्य जब परिवार के लोगों से इस संदर्भ में बात की तब उसके भाई और मां ने बताया कि उसकी दिमागी हालत सही नहीं है। पिछले कई वर्षों से उसकी देखभाल कर पाना मुश्किल हो रहा था। क्योंकि पैसे नहीं थे, इसलिए उसे जंजीरों से बांध कर रखा था। वहीं आशियाना आश्रम संस्था के सदस्य राजकुमार ने बताया कि पीड़ित युवक की देखभाल अब संस्था द्वारा किया जाएगा। टीम के सदस्य पीड़ित को अपने साथ ले गए।