(Representative Image)
(Representative Image)

    नई दिल्ली: कई बार एक छोटी सी गलती भी हम पर भारी पड़ जाती है। ऐसा ही कुछ एक महिला के साथ हुआ है। जिसे पढ़कर आप भी ऑनलाइन ट्रांजिक्शन का व्यवहार बड़े सावधानी के साथ करेंगे। दरअसल एक महिला को किसी को ऑनलाइन ट्रांजेक्शन के द्वारा 7 लाख रुपये भेजने थे लेकिन गलती से वो पैसे किसी और को भेज दिए फिर उस शख्स से पैसे वापस वापस मांगने पर शख्स ने जो कहा वह हैरान कर देने वाला है। 

    एक गलती महिला को पड़ी भारी 

    आपको बता दें कि ट्रांसफर में त्रुटि के कारण धन प्राप्त करने वाले शख्स ने लॉटरी जीतने का दावा करते हुए इसे वापस देने से इनकार कर दिया। मीडिया रिपोर्ट्स के मुताबिक, कथित घटना 29 जून को हुई जब मीरा रोड की महिला ने अपने एक रिश्तेदार को पैसे ट्रांसफर करने का प्रयास किया। हो सकता है कि महिला ने गलती से गलत खाता संख्या दर्ज कर दिया हो, जिसके कारण मुंबई के किसी अन्य खाताधारक को पैसे भेज दिया। महिला ने अपनी गलती का एहसास होने के बाद अपने बैंक से संपर्क किया, लेकिन उन्होंने उसकी गलती बताते हुए उसकी सहायता करने से इनकार कर दिया। 

    शख्स ने पैसे देने से किया मना 

    दरअसल इस मामले को लेकर 30 जून को महिला ने वसई विरार पुलिस के साइबर सेल डिवीजन से सहयोग मांगा। इसके बाद पुलिस ने खाताधारक का पता लगा लिया और पीड़ित महिला के पैसे वापस करने को कहा। पहले तो लाभार्थी ने लॉटरी जीतने का दावा कर धन वापस करने का विरोध किया। पुलिस द्वारा उसके खिलाफ कानूनी कार्रवाई करने की धमकी देने के बाद वह व्यक्ति लेनदेन को उलटने के लिए तैयार हो गया। महिला ने बाद में दो दिन बाद 2 जुलाई को अपने अकाउंट में पैसे वापस प्राप्त किये। आप भी डिजिटल ट्रांजेक्शन करते वक्त ध्यान रखिये की कई आप भी तो गलत खाते  में पैसे नहीं भेज रहे।