Arrested

  • वनकर्मियों से मिले आईजी, कामबंद आंदोलन खत्म

सेलू. मारपीट प्रकरण के चलते बोर प्रकल्प में वनकर्मियों ने कामबंद आंदोलन शुरू किया था. आंदोलन को शनिवार को नागपुर जोन के विशेषज्ञ पुलिस महानिरीक्षक चिरंजीव प्रसाद व एसपी प्रशांत होलकर ने भेंट दी. उनके आश्वासन के बाद वनकर्मियों ने कामबंद आंदोलन वापस लिया. प्रकरण में दो आरोपियों को गिरफ्तार कर लिया है.

अन्य आरोपी भी जल्द हिरासत में लिये जाने की जानकारी पुलिस ने दी. वन विभाग के कामबंद आंदोलन के बाद पुलिस ने स्वप्नील तलवेकर व मंगेश रामटेके को शुक्रवार की रात्रि हिरासत में लिया था. शनिवार को उन्हें न्यायालय में पेश करने पर उन्हें न्यायालयीन कस्टडी में भेज दिया गया.

वहीं अन्य आरोपियों की तलाश पुलिस कर रही है. शनिवार को वर्धा दौरे पर आये नागपुर जोन के विशेष पुलिस महानिरीक्षक चिरंजीव प्रसाद ने आंदोलनस्थल को भेंट दी. इस प्रसंग पर पुलिस अधीक्षक प्रशांत होलकर, उपविभागीय पुलिस अधिकारी पीयूष जगताप व अन्य अधिकारी उपस्थित थे. उनके आश्वासन के बाद वनकर्मियों ने अपना आंदोलन पिछे लिया.

पर्यटकों को लौटना पड़ा था वापस 

इस घटना के बाद वनकर्मियों ने कामबंद आंदोलन शुरू कर दिया था.  इससे दो दिन तक बोर व्याघ्र प्रकल्प में जंगल सफारी बंद रखी गई थी. परंतु इसकी जानकारी न होने के कारण जंगल सफारी के लिए पहुंचे पर्यटको को निराश होकर वापस लौटना पड़ा था.