Crime

    वर्धा. अंकिता पिसुड्डे हत्याकांड प्रकरण में बचाव पक्ष की ओर से रविवार को मोबाइल कंपनी के नोडल आफिसर दत्ता शामराव आंगरे की गवाही पुन: जांची गई़ साथ ही मृतक अंकिता के स्कूल की मुख्याध्यापिका की गवाही फिर से जांच करने के लिए आवेदन किया गया, जिसके लिए न्यायालय ने 17 जुलाई की तारीख दी है.

    जिला व अतिरिक्त सत्र न्यायालय के न्यायाधीश राहुल भागवत के सामने यह न्यायालयीन कामकाज पूर्ण हुआ़ आरोपी नगराले की ओर से एड. भुपेंद्र सोने द्वारा वोडाफोन के नोडल अधिकारी आंगरे की गवाही जांची गई़ इस दौरान प्रवीण पानवडे की पुन: गवाही न लेने की बात न्यायालय में कही़ कोरोना संक्रमण के कारण सरकार द्वारा नियुक्त एड.

    उज्ज्वल निकम ने वीडियो कांफ्रेसिंग द्वारा न्यायालयीन कामकाज में सहभाग लिया़ उन्हें स्थानीय सहयोगी एड. दीपक वैद्य ने न्यायालय में उपस्थित रहकर सहयोग किया.