आरडीसी को खराब संतरा व मोसंबी दी भेंट

  • फसल पर ऑरेंज रॉट बिमारी का प्रकोप
  • राकां किसान सभा की कलेक्ट्रेट पर दस्तक

वर्धा. जिले में मोसंबी, संतरा फसल पर ऑरेंज रॉट (डिंक्या) बिमारी का प्रकोप देखा जा रहा़ इसके साथ ही सोयाबीन व कपास की फसल की हालत खराब है़ किसानो को राहत देने की मांग को लेकर राकां किसान सभा ने सोमवार को कलेक्ट्रेट पर दस्तक दी़ जहां निवासी उपजिलाधिकारी सुनील कोरडे को खराब संतरा, मोसंबी सहित अन्य फसल भेंट स्वरुप प्रदान की़ 

जिले के आर्वी, आष्टी, कारंजा तहसील में संतरा व मोसंबी की फसल बडी मात्रा में होती है़ परंतु पिछले कुछ दिनों से इन फसलों पर ऑरेंज रॉट बिमारी का प्रकोप देखा जा रहा़ इससे किसान चिंतीत है़ प्रतिदिन पेडो से फल गल कर निचे गिर रहे है़ इसके चलते पेडो पर फल नहीं बच रहे़ किसान आर्थिक अडचण में आ गया है़ इसे गंभीरता से लेते हुए केंद्र व राज्य सरकार ने नुकसान क्षेत्र का सर्वे करना चाहिए़ पीडित किसानों को आर्थिक मदद प्रदान करें. इसके साथ ही जिले में सोयाबीन व कपास की फसल भी संकट में है़ सोयाबीन के पौधो को फल्लिया नहीं, तो कपास के पौधों को फल नहीं लग रहे़ किसान दोहरी मार झेल रहा है.

केंद्र सरकार ने ध्यान नहीं दिया तो, तीव्र आंदोलन किया जाएंगा, ऐसी चेतावनी निवेदन में दी गई़ निवेदन पर राकां किसान सभा के जिलाध्यक्ष संजय काकडे, पूर्व विधायक राजू तिमांडे, सुरेश देशमुख, शशांक घोडमारे, सुनील निमसडकर, विनोद पांडे के हस्ताक्षर थे़  निवासी उपजिलाधिकारी को खराब फसल व फल भेंट देकर उन्हें किसानों की समस्या से अवगत कराया़ इस प्रसंग पर राकां किसान सभा के सदस्य उपस्थित थे़