BJP Protest

    वर्धा. भारतीय जनता पार्टी (BJP) की ओर से गुरुवार को आक्रोश आंदोलन किया गया़ ओबीसी समाज का राजनीतिक आरक्षण वापस दिलाने तथा आघाड़ी सरकार के खिलाफ यह आंदोलन हुआ़ राज्य सरकार के खिलाफ जोरदार नारेबाजी की गई़ इसके बाद मांगों का ज्ञापन जिलाधिकारी के माध्यम से सरकार को भेजा गया.

    डा़ बाबासाहब आंबेडकर प्रतिमा परिसर में सुबह 10 बजे किये गए इस आंदोलन में सांसद रामदास तडस, भाजपा के जिलाध्यक्ष डा़ शिरीष गोडे, विधायक डा़ रामदास आंबटकर, विधायक दादाराव केचे, जिप अध्यक्षा सरिता गाखरे, संजय गाते, अविनाश देव, नगराध्यक्ष अतुल तराले, किशोर दिघे, मिलिंद भेंडे, राजेश बकाने, गुंडू कावले, शहर अध्यक्ष पवन परियाल, ओबीसी मोर्चा के प्रवीण चोरे, भाजयुमो के जिलाध्यक्ष वरुण पाठक, महिला आघाड़ी जिलाध्यक्ष मंजुषा दूधबडे, जि.प. उपाध्यक्ष वैशाली येरावार, नगराध्यक्ष प्रशांत सव्वालाखे, नगराध्यक्ष गजानन राउत, न. प. नरेन्द्र मदनकर, जिप सभापति मृणाल माटे, सरस्वती मडावी, माधव चंदनखेडे, अर्चना वानखेडे, रवी कारोटकर, मंगेश झाडे, राहुल चोपडा, संजय डेहणे, चंदु मालवे, सुनिता मेहरे, शितल डोंगरे, वंदना भुते, श्रेया देशमुख, प्रतिभा बुर्ले, अशोक कलोडे, आशीष गांधी, माधुरी इंगले, राजु किटकुले, शकिल खान, आकाश दुबे, राजु पनपालीया, अश्विनी बमनोटे, विशाल धोपाडे, सचिन चैधरी, सुमित गाते, प्रवीण सावरकर, नंदकिशोर झोटींग तथा भाजपा के कार्यकर्ता, जनप्रतिनिधि व पदाधिकारी बडी संख्या में शामिल हुए. शिष्टमंडल ने कलेक्टर से भेंट कर मांगों का ज्ञापन सौंपा.

    BJP ओबीसी समाज के साथ

    एक ओर मराठा आरक्षण के लिए संघर्ष शुरू है़  वहीं दूसरी ओर ओबीसी समाज का राजनीतिक आरक्षण संकट में आ गया है़  राज्य सरकार ने पीछड़ा आयोग तैयार नहीं किया, उचित आंकड़ेवारी सर्वोच्च न्यायालय में नहीं रखी गई़  एक दो नहीं, बल्कि आठ बार कोर्ट में जवाब देने में सरकार विफल रही़  मंत्रीगण ओबीसी आरक्षण के लिए मोर्चा निकालते है़ं  मात्र प्रत्यक्ष में कुछ नहीं कर पाते़  केवल मलाई खाने का एकमात्र कार्यक्रम राज्य की महाविकास आघाड़ी सरकार कर रही है़ सरकार की अनदेखी से महाराष्ट्र राज्य के ओबीसी समाज पर यह गाज गिरी है़  भाजपा ओबीसी समाज के साथ खड़ी है़  इस समाज को राजनीतिक आरक्षण फिर से दिलाकर रहेंगे़  ऐसी प्रतिक्रिया सांसद रामदास तडस ने व्यक्त की.