भाजपा का घंटानाद व लाक्षणीक उपवास, आघाडी सरकार के खिलाफ घोषणाबाजी

  • मदिरालय खोले जा सकते है, मंदिर क्यों नहीं ?

वर्धा. कोरोना के चलते राज्य में सभी धार्मीक प्रतिष्ठाण बंद रखे गए है़ परंतु अनलॉक में मदिरालय खोले जा सकते है, तो देवालय क्यों नहीं? ऐसा सवाल करते हुए मंगलवार को जिला भाजपा ने मंदिरों के समक्ष घंटानाद व लाक्षणीक उपवास आंदोलन किया़ अनोखे तरीके से आंदोलन करते हुए महाविकास आघाडी के खिलाफ घोषणाबाजी की गई.

जिले के हिंगनघाट, आर्वी, देवली, वर्धा, आष्टी, कारंजा, समुद्रपुर तहसील में यह आंदोलन किया गया. आंदोलन में भाजपा के वरिष्ठ नेताओं सहित, भाजयुमो, महिला आघाडी के सदस्यों ने हिस्सा लिया़