Dharna Pradarshan, Aarvi

    आर्वी (सं). 7 मई 2021 के शासन आदेश के तहत पिछड़ावर्गीय कर्मियों का पदोन्नति का आरक्षण स्थगित करने के विरोध में सोमवार को कास्ट्राइब शिक्षक संगठन ने कार्यालय के सामने धरना-प्रदर्शन किया. पश्चात मांगों का ज्ञापन तहसीलदार विद्यासागर चव्हाण के माध्यम से उपमुख्यमंत्री अजीत पवार को भेजा.

    स्थानीय तहसील कार्यालय परिसर में संगठन के पदाधिकारियों ने धरना-प्रदर्शन कर पिछड़ावर्गियों पर हुआ अन्याय दूर करने की मांग की. 18 फरवरी 2021 के शासन निर्णय के तहत बिंदू नामावली का विचार न करते हुए पदोन्नति कोटे के 100 फीसदी पद सेवा वरिष्ठता के तहत भरने के आदेश देने से पिछड़ावर्गीय अधिकारी, कर्मचारियों में असंतोष फैला हुआ है. इस कारण 7 मई 2021 का शासन आदेश रद्द कर 18 फरवरी 2021 के शासन निर्णय के तहत पदोन्नति के पद तुरंत भरने की मांग की गई.

    आंदोलन में कास्ट्राइब शिक्षक संगठन के तहसील अध्यक्ष राजेश सोमकुंवर, सचिव प्रकाश बनसोड, पवन झटाले, शेखर पालेकर, आ. दा. पाटिल, प्रशांत कालबांडे, सारंगधर पासरे, नितेश कालबांडे, दिलीप भाकरे, श्रीकृष्ण अढाऊ, प्रफुल्ल कांबले, रवि लढे, मुकुंद पखाले, संतोष डंभारे, अजय काकडे, प्रशांत ढवले, बबन तिजारे, सूरज लोखंडे, ढाकुलकर, जयस्वाल, चौधरी, नाथजोगी मौजूद थे.