More 25 gardens to open in Pune from 25 January

    वर्धा:  गार्डन बच्चों को खेलने के साथ ही ज्येष्ठों तथा सभी वर्ग के नागरिकों के लिए हक की जगह रहती है़  जिससे सिटी के सभी वार्डों की ओपन स्पेस विकसीत कर उच्च दर्जे का गार्डन बनाने की ओर नगर परिषद प्रशासन की ओर से पहल की जा रही है़  इसी के तहत 9 गार्डन के लिए 4 करोड रुपयों का निधी मंजुर किया गया़  निधी के माध्यम से 5 गार्डन बनकर तैयार हो गए है़  जिससे शहर के सौंदर्यीकरण के साथ ही नागरिकों को निश्चित ही लाभ मिलनेवाला है़   

    वैसे प्रत्येक वार्ड में गार्डन जरूरी है़  शहर के जहां जगह उपलब्ध थी वहां कपांउंड डालकर, आकर्षक लाईटींग, ट्रैक, बच्चों को खेलने विभिन्न प्रकार के इन्स्टुमेंट, लॉन, पेड-पौधे लगाकर गार्डन विकसित किए गए़  इन गार्डन की वजह से बच्चों के साथ ही नागरिकों को हक की जगह उपलब्ध होगी़ 

    नये से बनाएं 7 गार्डन

    फरवरी 2020 के बजट में शहर में 9 गार्डन विकसित करने 4 करोड रुपयों का प्रावधान किया गया़  इस दौरान कंपाउंड वॉल बनाकर 7 गार्डन की नये से निर्मिती की गई़  साथ ही लाईटींग, ट्रैक, बच्चों को खेलने सामुग्री, फाउंटन, बेंचेस का समावेश है़. जिसमें प्रभाग 1 जगदले-लेआऊट मानसमंदिर परिसर के गार्डन के लिए 16 लाख 12 हजार, प्रभाग 5 बेद लेआऊट स्थित गार्डन के लिए 14 लाख 38 हजार, प्रभाग 4 इसाजी लेआऊट वार्ड में 33.69 लाख, प्रभाग 6 लहानुजीनगर गार्डन के लिए 49.82 लाख, प्रभाग 10 श्रीनिवास कालोनी के गार्डन के लिए 18.71 लाख, प्रभाग 15 दयालनगर तिवारी लेआऊट में गार्डन के लिए 19.94 लाख रुपए खर्च किए गए़  

    2 गार्डन में सौंदर्यीकरण 

    प्रभाग 11 स्थित रामनगर के उत्कर्ष गार्डन की मरम्मतकार्य के लिए 42.96 लाख रुपए खर्च किए गए़  गार्डन में फाउंटन, गेनाईट, बेंचेस, पेड-पौधे, लाईटींग लगाई गई है़  जबकि प्रभाग 15 स्थित दयालनगर बंडेवारलेआऊट के गार्डन में 6.58 लाख रुपए खर्च किए़  जिसके माध्यम से बच्चों के लिए खेलने की सामुग्री तथा पेड-पौधे लगाए गए है़ 

    4 गार्डन का कार्य प्रगतिपथ पर 

    वार्डों में विकसीत किए फिलहाल 5 गार्डन का कार्य पूर्ण हो गया है़  जबकि 4 गार्डन का कार्य 90 फिसदी पूर्ण होकर प्रगतिपथ पर है़  नागरिकों की सेवा में यह वार्ड जल्द उपलब्ध होंगे, इस उद्देश से कार्य को गति दी जा रही है, ऐसी जानकारी नप अभियंता सौरभ अहेर ने दी़ 

    हवालदारपूरावासियों की मांग अधूरी

    शहर के कई वार्ड ऐसे है जहां ओपन स्पेस उपलब्ध नहीं है़  हवालदारपूरा शहर के मार्केट परिसर में आने से वहां गार्डन के लिए जगह नहीं. कुछ वर्ष पूर्व वार्ड का सार्वजनिक शौचालय गिराया गया़  जहां व्यायामशाला एवं गार्डन बनाने का वादा जनप्रतिनिधियों द्वारा किया था़  लेकिन फिलहाल वहां वार्ड का कचरा जमा किया जा रहा है़  हवालदारपूरा वासियों द्वारा गार्डन बनाने की मांग जोर पकड रही है़