Anokha Andolan

    हिंगनघाट (सं). एक दिन पहले भाजपा के कुछ पार्षदों ने भाजपा का दामन छोड़ शिवसेना का हाथ थाम लिया़ चुनाव के मुहाने पर दल बदलनेवाले इन जनप्रतिनिधियों का युवा परिवर्तन की आवाज संगठन ने निषेध जताया़ इतना ही नहीं तो संगठन के पदाधिकारियों ने नप में दस्तक देते हुए उपाध्यक्ष चंद्रकांत घुसे की कुर्सी पानी डालकर साफ करते हुए उनपर गंभीर आरोप लगाए.

    इस अनोखे के आंदोलन से नप परिसर में चर्चाओं का बाजार गरमाया था़ कुर्सी का लालच कर ऐसे जनप्रतिनिधि अवसर देख दल बदलते हैं, ऐसा गंभीर आरोप संगठन के पदाधिकारी राहुल धानुलकर, बाला मानकर ने लगाया़ इस अवसरवादी लोगों के कारण अपवित्र हुई कुर्सी को आज हमने पवित्र कर दिया, ऐसा भी उन्होंने बताया़ मंगलवार को पालिका में जाकर उपाध्यक्ष के कक्ष की कुर्सी को सर्फ के पानी से धोकर स्वच्छ किया़ चुनाव के मुहाने पर पाला बदलकर इस पार्टी से उस पार्टी में जाना, यह पहली बार नहीं हो रहा है.

    सत्ता में रहते हुए जिन्हें उपेक्षा झेलनी पड़ी या जिन्हें सत्ता में भागीदारी नहीं मिली वें लोग इस तरह आयाराम गयाराम को अंजाम देते है़ं यह पाला बदल ऊपर (दिल्ली) से लेकर नीचे (गली) तक होता रहता है़ पिछले चुनाव के वक्त सत्ता की चाह में इसी तरह पाला बदल कर कुछ लोग भाजपा में में गए थे और अब उनमें से कुछ फिर से पाला बदल कर शिवसेना में गए़ घुसे ने उनके कार्यकाल में भ्रष्ट काम किया है, ऐसा आरोप भी लगाया गया़ इस अनोखे आंदोलन से दिनभर शहर में चर्चा चली.