Congress Protest in Wardha

    वर्धा. ओबीसी समाज के राजनीतिक आरक्षण रद्द होने के मुद्दे पर भाजपा ने चक्काजाम व जेलभरो आंदोलन किया़ इसके जवाब में कांग्रेस ने भी धरना दिया़ स्थानीय छत्रपति शिवाजी महाराज चौराहे पर जवाबी आंदोलन करते हुए भाजपा का निषेध जताया गया़ राजश्री छत्रपति शाहू महाराज की जयंती सामाजिक न्याय दिवस के उपलक्ष्य कांग्रेस ने उक्त आंदोलन किया़ स्थानीय स्वराज्य संस्था में ओबीसी के राजनीतिक आरक्षण को सुप्रीम कोर्ट ने रद्द कर दिया.

    इसका कारण यह कि, सुप्रीम कोर्ट ने केंद्र सरकारक की ओर ओबीसी की आंकड़ेवारी मांगी़ परंतु केंद्र सरकार ने जानबूझकर यह आंकड़ेवारी पेश नहीं की़ इसलिए यह आरक्षण रद्द हुआ़ इसके लिए केंद्र सरकार व तत्कालीन फडणवीस सरकार जिम्मेदार है़ यह आरोप कांग्रेस ने लगाया.

    पहले स्थानीय सद्भावना भवन जिला कांग्रेस कमेटी की ओर से राजश्री छत्रपति शाहू महाराज की प्रतिमा का अभिवादन किया गया़ इसके बाद छत्रपति शिवाजी महाराज चौराहे पर धरना आंदोलन हुआ.

    आंदोलन में जिलाध्यक्ष मनोज चांदुरकर, महिला जिलाध्यक्षा हेमलता मेघे, शहराध्यक्ष सुधीर पांगुल, शहराध्यक्ष अरुणा धोटे, इंटक की विदर्भाध्यक्षा अर्चना भोमले, एसटी सेल के जिलाध्यक्ष ज्ञानेश्वर मडावी, शहराध्यक्ष महेंद्र शिंदे, पंकज इंगोले, धर्मपाल ताकसांडे, अभिजीत चौधरी, विजय नरांजे, अविनाश सेलूकर, विशाल हजारे, नयन खंगार, चंद्रशेखर घोडे, बालासाहब माऊसकर, सोनाली कोपुलवार, विक्की वलके, दिपाली सातपुते, प्रवीण इंगोले आदि पदाधिकारी व कार्यकर्ता शामिल हुए थे.