File Photo
File Photo

    हिंगनघाट. शहर और परिसर में कोरोना बाधित की लगातार बढ़ती संख्या प्रशासन के सामने चुनौती बन गई है. चार दिन पूर्व शहर व परिसर में 94 बाधित मिलने से प्रशासन सकते में आ गया था. और मंगलवार को फिर से 74 बाधित मिले. इसकी रोकथाम करने कड़े प्रतिबंधों के साथ उपाय योजनाओं को अमल में लाया जा रहा है. शहर के गांधी वार्ड, कोचर वार्ड और शास्त्री वार्ड के कुछ भागों को कंटेनमेंट जोन घोषित किया गया है. बढ़ते कोरोना संकट से बचने उपविभागीय अधिकारी चन्द्रभान खंडाईत ने नागरिकों को निर्देशों का पालन करने का आह्वान किया.

    रात में कर्फ्यू तो दिन में जमावबंदी कर ब्रेक द चेन को अमल में लाने का फैसला सरकार ने लिया है, जो इस माह के अंत तक चलेगा. दूसरी ओर व्यवसायी और रोज मजदूरी पर जाने वालों ने लगातार के लाकडाउन का विरोध जताया. अगर हम काम पर नहीं जाएंगे, व्यवसाय नहीं करेंगे तो हमारा गुजारा कैसे होगा. नाभिक संघ और मांस बिक्री करने वाले व्यवसायियों के प्रतिनिधि मंडल ने उपविभागीय अधिकारी को ज्ञापन देकर कुछ घंटे व्यवसाय करने की सहूलियत देने की मांग की है.