ईगल सीड्स कंपनी के खिलाफ एफआईआर

  • कृषि विभाग की शिकायत

वर्धा. किसानों द्वारा बोये गए सोयाबीन के बीज न उगने से हिंगनघाट पुलिस ने ईगल सिड्स बायोटेक लि. कंपनी के खिलाफ धोखाधडी का मामला दर्ज कर लिया़. इस संबंध में हिंगनघाट पंचायत समिति के कृषि अधिकारी एम.एस. डेहनकर ने शिकायत दर्ज की थी़ बिज न उगने के कारण किसानों का भारी नुकसान दर्ज किया गया़. 

प्राप्त जानकारी के अनुसार गोविंदपुर निवासी किसान शितल विठ्ठल चौधरी सहित अन्य 5 किसानों ने 19 जून को जिला कृषि अधीक्षक की ओर शिकायत दर्ज की थी़ इसमें करीब 24.20 हेक्टयर क्षेत्र में बोयें गए सोयाबीन के बीज न उगने की बात कही थी़ किसान शितल चौधरी ने बडी मात्रा में ईगल सिड्स बायोटेक लि. कंपनी के बीज वर्धा के  अरुण सीड्स एण्ड पेस्टीसाईड्स से खरिदे थे़ शिकायत के आधार पर 23 जून को उपविभागीय कृषि अधिकारी घोडमारे, तहसील कृषि अधिकारी आर बी गायकवाड, पंस कृषि अधिकारी एम एस डेहनकर, मंडल कृषि अधिकारी एस डी सुतार, कुटकी कृशि संशोधन केंद्र के आर एस गाडगे ने चौधरी के खेत को भेंट दी़ इस प्रसंग पर कृषि केंद्रचालक भी उपस्थित थे़ इसमें सोयाबीन के ईगल एक्सलंट प्लस नस्ल के बीज न उगने की बात सामने आयी़ इस संबंध में रिपोर्ट वरिष्ठों को भेजा गया़ अंतत: कृषि अधीक्षक के निर्देश पर पंस कृषि अधिकारी डेहनकर ने हिंगनघाट थाने में शिकायत दर्ज की़ इसके आधार पर पुलिस ने इंदोर (मध्यप्रदेश) स्थित आरएनटी ईगल सिड्स बायोटेक लि. 117 सनशेरा कंस्टल युनिव्हर्सिटी 07 के खिलाफ धारा 420, भादंवि 6 बी, 7 बी, 23 बी के तहत मामला दर्ज कर आगे की जांच शुरु कर दी़.

संगठनो ने किया था आंदोलन
संबंधीत कंपनी के खिलाफ कानूनी कार्रवाई की जाए इस मांग को लेकर शिवसेना, प्रहार जनशक्ती पार्टी, युवा परिवर्तन की आवाज सहित कुछ संगठनो ने आंदोलन किये थे़ कंपनी व बीज बिक्रेता का लाईसन्स रद्द करने की मांग हुई थी़ फिलहाल कंपनी के खिलाफ पुलिस में मामला दर्ज किया गया, आगे की कार्रवाई चल रही है़.