wardha

  • महाराष्ट्र प्रांतिक तैलीक महासभा विदर्भ युवा आघाडी की मांग,
  • पीएम, सीएम को भेजा निवेदन

वर्धा. देश में ओबीसी की संख्या 52 फीसदी से अधिक है. परंतु जिस प्रमाण में ओबीसी समाज को सुख सुविधा उपलब्ध होनी चाहिए, उस प्रमाण में समाज को  सुविधा नही मिलती. भारत देश में विविध क्षेत्र से अपना अमुल्य योगदान देनेवाले ओबीसी के सभी प्रवर्ग का हित ध्यान में लेकर मांगे पूर्ण करने की मांग महाराष्ट्र प्रांतिक तैलीक महासभा विदर्भ युवा आघाडी ने की. इस संबंध में जिलाधिकारी के माध्यम से पीएम मोदी को ज्ञापन भेजा.

ओबीसी संवर्ग की जनगणना जातिनिहाय करें, समाज के हर एक जाति की आर्थिक व सामाजिक स्थिति जानने उचित कदम उठाये, शिक्षा, सामाजिक व आर्थिक प्रगति के लिए एक घटक व उसके उपघटक का पंजीयन करें, देश में अस्तित्व में होनेवाले सभी संवर्ग का जाति निहाय रिकार्ड उपलब्ध रखना आवश्यक है. ओबीसी समाज को आरक्षण देते समय क्रिमीलीयर की शर्थ शिथिल करें, किसी भी समाज को आरक्षण देते समय ओबीसी समाज पर अन्याय न करें आदी मांगो का ज्ञापन जिलाधिकारी के माध्यम से पीएम मोदी व मुख्यमंत्री उद्धव ठाकरे को भेजा गया. ज्ञापन सौंपते वक्त विदर्भ युवा आघडी के उपाध्यक्ष विपीन पिसे, अतुल तिमांडे, सदस्य पवन भांगे, प्रविण भांगे, अभिजीत रघाटाटे, योगेश गव्हाने, मोहित उमाटे, लोकेश लिनाने, चेतन वाघमारे मौजूद थे.