27 candidates in the fray for the election of Teachers Voters' Union

वर्धा. नागपुर स्नातक निर्वाचन क्षेत्र के लिए 1 दिसंबर को मतदान होना है. इस चुनाव में वर्धा जिले के 3 प्रत्याशी सहित कुल 19 प्रत्याशी अपना नसीब आजमा रहे है. चुनाव के चलते प्रचार का कार्यक्रम अंतिम चरण में है. जिससे प्रत्याशी पूरे जोर-शोर से प्रचार कार्य में जुटे है. 29 नवम्बर की शाम 5 बजे प्रचार की तोफे शांत होगी.

नागपुर स्नातक निर्वाचन क्षेत्र के चुनाव के लिए जिला प्रशासन पूरी तरह से तैयार है. जिले के 23 हजार 68 मतदाताओं के मतदान के लिए 35 केन्द्रों पर 140 मतदान कर्मचारी नियुक्त किए गए है. साथ ही पांच आरक्षित पथक में 20 कर्मचारियों का समावेश है. प्रत्येक मदतान केन्द्र पर 1 के तहत 35 सुक्ष्म निरीक्षक मतदान प्रक्रिया के लिए काम करेंगे. प्रत्येक मतदान केन्द्र पर सुरक्षा के लिए पुलिस दल नियुक्त है. जिले के वर्धा में 18 मतदान केन्द्र होकर 12115 मतदाता, आष्टी तहसील में दो मतदान केन्द्र होकर 867 मतदाता है. कारंजा में 2 मतदान केन्द्र तथा 1087 मतदाता, आर्वी में 3 मतदान केन्द्र व 2003 मतदाता, देवली में 3 मतदान केन्द्र होकर 2185 मतदाता्र समुद्रपुर में 1 मतदान केन्द्र होकर 870 मतदाता तथा हिंगनघाट में 6 मतदान केन्द्र होकर 3941 मतदाता है. ऐसे कुल 35 मतदान केन्द्र तैयार किए गए है. कुल 23 हजार 68 स्नातक मतदाताओं में 14 हजार 45 पुरुष व 9 हजार 20 महिला तथा अन्य 3 मतदाताओं का समावेश है.

आवश्यक सुविधा उपलब्ध

प्रशासन की ओर से सभी मतदान केन्द्र पर आवश्यक सुविधा उपलब्ध की गई है. जिसमें पानी, शौचालय, बिजली, दिव्यांगों के लिए रैम की सुविधा उपलब्ध होगी. इसके लिए मतदान केन्द्र पर कर्मचारियों को ले जाने 35 वाहन उपलब्ध किए गए है. कोविड की पार्श्वभूमि पर चुनाव विभाग ने सभी मतदान केन्द्र पर हैन्डवॉश, सैनिटाइजर, पीपीई किट, हैन्डग्लोवज, फेस मास्क, थर्मल गन आदी सामग्री तक उपलब्ध की है. हर एक केन्द्र पर दो हेल्थ वर्कर तथा तहसील स्तर पर वैद्यकीय टीम तैनात किए जाने की जानकारी उपजिलाधिकारी प्रविण महिरे ने दी.

जिले से तीन प्रत्याशी आजमा रहे भाग्य

नागपुर स्नातक चुनाव में जिले से तीन प्रत्याशी अपना भाग्य आजमा रहे है. जिनमें नीतेश बालकृष्ण कराले, राजेंद्र सुखदेव भुतडा व प्रा़ संगीता श्रीकांत बढे निदर्लीय के तौर पर मैदान में उतरे है.