poison
Representational Pic

  • आर्थिक तंगहाली के चलते उठाया कदम

वर्धा. पत्नी को मोबाइल पर फोन कर आत्महत्या करने की जानकारी देने के बाद पति ने जहर गटका. उक्त घटना अमरावती जिले के चांदूर रेलवे-अमरावती मार्ग पर घटी. वर्धा के नालवाडी स्थित लोहगड अपार्टमेंट में निवासी मनीष यादव(44)अमरावती में एक कंपनी में मार्केटिंग प्रतिनिधि के रूप में कार्यरत थे. उन्होंने अमरावती में एक कमरा किराये पर लिया था. पत्नी रिंकू और दो बेटियां मनू व काव्या वर्धा के फ्लैट में रहती थी.

सोमवार को सुबह 10.24 बजे पत्नी को मोबाइल पर फोन कर आत्महत्या करने की सूचना दी. दोनों बच्चियों के साथ अपना भी ख्याल रखने की बात कही. स्वयं अमरावती–चांदूर मार्ग पर होने की सूचना देकर फोन रख दिया. पत्नी ने पति के मोबाइल पर पुन: फोन लगाया किंतु कोई प्रतिसाद नहीं मिला. अचानक हुये इस घटनाक्रम से पत्नी के होश उड़ गये. पत्नी ने तुरंत अपने परिचित व्यक्तियों से संपर्क कर चांदूर रेलवे व अमरावती पुलिस से संपर्क साधा. घटनास्थल का पूर्ण पता नहीं होने के कारण चांदूर व अमरावती पुलिस टीम यादव की खोजबिन में लग गई.

बीच रास्ते से पत्नी को किया फोन

मोबाइल के अंतिम लोकेशन के आधार पर पुलिस घटनास्थल पर पहुंची. किंतु तब तक देर हो गई थी. गंभीर अवस्था में मनीष को अमरावती के अस्पताल में दाखिल किया गया, जहां उसकी मौत हो गई. घटनास्थल फ्रेजरपुरा थाने के अंतर्गत होने के कारण आगे की जांच फ्रेजरपुरा पुलिस कर रही है. कोरोना के चलते मृतक की पहली नौकरी छूटी थी़  कई प्रयासों के बाद उसे अमरावती में दूसरी नौकरी मिली़  परिवार से दूर रहने की नौबत उस पर आयी थी. कर्ज के बोझ तले दबे होने के कारण वह कुछ दिनों से चिंतित था़  आर्थिक तंगहाली के चलते उसने यह कदम उठाने की चर्चा है.