Chandrashekhar Thool

  • परिजनों ने लगायी न्याय की गुहार
  • सौंपा मांगों का ज्ञापन

आर्वी. शेयर मार्केट में पैसे लगाकर प्रा. चंद्रशेखर थुल को आत्महत्या के लिए मजबूर कर दिया. उनकी आत्महत्या के लिए जिम्मेदार उमेश म्हात्रेकर पर मामला दर्ज होने के बाद भी अब तक किसी प्रकार की ठोस कार्रवाई नहीं हुई. उनके खिलाफ कार्रवाई कर हमें न्याय दिया जाए. इस आशय की मांग मृतक के परिजनों ने विधायक दादाराव केचे से की है.

ज्ञापन के अनुसार चंद्रशेखर थुल व उमेश म्हात्रेकर दोनो मीत्र थे. उमेश ने शेअर मार्केट में पैसे लगाने के लिए चंद्रशेखर थुल के माध्यम से लोगो से पैसे उठाए़  परंतु उक्त पैसे खर्च कर उमेश ने प्रा. थुल से विश्वासघात किया.  जिन लोगों से पैसे उठाये गए थे, वे थुल को पैसो की मांग करते थे. करीब 15 लाख रुपए शेयर मार्केट के चक्कर में गवा दिये गए. प्रा. थुल ने बार बार उमेश की ओर पैसों की मांग की, परंतु वह टालमटोल रवैया अपना रहा था. इससे तंग आकर प्रा. चंद्रशेखर थुल ने रेलगाडी से छलांग लगाकर आत्महत्या कर ली.  इस प्रकरण में पुलगांव पुलिस ने उमेश सुभाष मात्रेकर (42) के खिलाफ मामला दर्ज कर लिया. परंतु अब तक उसे हिरासत में नहीं लिया गया. प्रकरण में पुलिस कोताई बरत रही है.  

आरोपी के खिलाफ कार्रवाई की मांग

गंभीर मामला होते हुए भी आरोपी के खिलाफ सख्त कार्रवाई नहीं की जा रही है. इस ओर गंभीरता से ध्यान देकर हमें न्याय दे. यह मांग मृतक के परिजन प्यारेलाल रामटेके, प्रिया रामटेके ने गृहमंत्री अनिल देशमुख, विधायक दादाराव केचे, पूर्व विधायक अमर काले, पुलिस अधीक्षक को सौंपे ज्ञापन में की है.