OBC Morcha

  • सरकार का जताया निषेध

वर्धा. बढाचढाकर भेजे गए बिजली बिलो के निषेध में गुरवार, 26 नवम्बर को मनसे ने आक्रोश मोर्चा निकाला. जिलाध्यक्ष अतुल वांदिले के नेतृत्व में जिलाधिकारी कार्यालय पर मनसैनिको ने दस्तक दी़ जहां सरकार के खिलाफ घोषणाबाजी हुई.

देश में कोरोना का प्रादुर्भाव होने से मार्च-20 से राज्य में लॉकडाऊन शुरु हुआ था. मार्च, अप्रैल व मई तीन माह का बिजली बिल आम ग्राहकों को एकसाथ बढाचढाकर भेजा गया़ जनता के हाथ को काम नहीं है, ऐसी स्थिति में इतना बिल वें कहां से भरेंगे़ उक्त औसतन बिल माफ किया जाए, इस मांग का ज्ञापन बार बार मुख्यमंत्री, ऊर्जामंत्री, जिलाधिकारी, उपविभागीय अधिकारी, मुख्य कार्यकारी अभियंता को दिया गया. परंतु अब तक किसी प्रकार का निर्णय नहीं हुआ. वहीं सरकार के मंत्री अपने आश्वासनो से मुखर गए़ इन सभी बातों को देखते हुए महाराष्ट्र नवनिर्माण सेना ने गुरुवार को आक्रोश मोर्चा निकाला.

मोर्चा में नितीन अमृतकर, जिला उपाध्यक्ष अमोल बोरकर, विजू वाघमारे, सुभाष चौधरी, शंकर पोटफोडे, राहुल वाढोणकर, जिला सचिव सुनील भुते, वा.सेना जिलाध्यक्ष रमेश घंगारे, किसान सेना जिलाध्यक्ष किशोर चांभारे, विद्यार्थी सेना जिलाध्यक्ष शुभम दांडेकर, राहुल सोरटे, मारोती महाकालकर, उमेश नेवारे, किसान सेना जिला उपाध्यक्ष मनोज गिरडे, सुधाकर वाढई, राजू मुडे, निलेश खाटीक, जयंता कातरकर, वासुदेव वैरागडे, अमोल मेंढुले, मोरेश्वर येंडे, राजू भोमले, किशोर हुलके, धनंजय भोंबे आदि पदाधिकारी, नागरिक बडी संख्या में शामील हुए थे.