Aanganwadi Sevika

    वर्धा. सरकार ने आंगनवाड़ी का कामकाज आनलाइन करने के उद्देश्य से आंगनवाड़ीसेविकाओं को मोबाइल वितरित किए़ वहीं मोबाइल रिचार्ज करने के लिए पर्याप्त राशि न मिलने से कर्मियों में असंतोष पणप रहा था़ इसके लिए आंगनवाड़ी कृति समिति ने सरकार के पास गुहार लगा रखी़ आखिरकार उनके प्रयासों को सफलता मिली़ अब आंगनवाड़ीसेविकाओं को मोबाइल रिचार्ज के लिए 599 रुपए दिये जाएंगे़ इससे जिले की कुल 1,280 सेविकाएं लाभान्वित होंगी़ बता दें कि सरकार ने आंगनवाड़ी का कामकाज आनलाइन करने के लिए मोबाइल प्रदान किए़ तीन माह के लिए 400 रुपए मोबाइल रिचार्ज के मिलते थे़ परंतु विविध कंपनियों ने नेट रिचार्ज के प्लान में वृध्दि कर 599 रुपए कर दिए है.

    परिणामवश आंगनवाड़ी कर्मियों को 200 रुपयों का अतिरिक्त आर्थिक खामियाजा भुगतना पड़ रहा था़ परिणामवश कर्मियों को तीन माह के रिचार्ज के लिए 599 रुपए देने की मांग की थी़  इसके लिए आंगनवाड़ी कर्मचारी संगठन के कृति समिति ने संबंधित विभाग से मांग की.  

    रंग लाए कृति समिति के निरंतर किए प्रयास

    आयसीडीएस आयुक्त इंद्रा मालो के कक्ष में 26 फरवरी को आंगनवाड़ी कर्मचारी कृति समिति के दिलीप उटाणे, एमए पाटिल, नितिन पवार, इरानी, धोंडीबा कुंभार, विठा पवार, राजेश सिंग एवं प्रशासन की ओर से सहायक आयुक्त संध्या नगरकर, उपायुक्त विजय क्षीरसागर, सहाय्यक लेखा अधिकारी पाटिल आदि की उपस्थिति में रायगड़ भवन में बैठक हुई़  इसमें सर्वसम्मति से रिचार्ज का मूल्य 599 रुपए करने पर जोर दिया गया़  आयुक्त ने भी मांग को मान्य करते हुए सरकार की ओर से आश्वासन दिया था़ आंगनवाड़ी कृति समिति ने भी इस मांग पर जोर दिया. 

    संबंधित विभाग ने जारी किए आदेश 

    आखिरकार 18 मार्च 2021 को संबंधित विभाग ने आदेश जारी कर तीन माह के मोबाइल रिचार्ज के लिए 600 रुपए देने की बात कही है़  इस निर्णय से जिले की 1,280 सेविकाएं लाभान्वित होने की जानकारी दिलीप उटाणे ने दी़  इस निर्णय से कृति समिति के पदाधिकारियों के प्रति आयटक संलग्न आंगनवाड़ी बालवाड़ी कर्मचारी यूनियन जिला शाखा वर्धा की ओर से विजया पावडे, वंदना कोलणकर, ज्ञानेश्वरी डंभारे, मंगला इंगोले, मैना उईके, प्रतिभा नैताम, सुनंदा आखाडे, विमल कौरती, सुरेखा रोहनकर,  सीमा गढिया, अरुणा गांवडे, रेखा काचोले, पारबता जुनघरे, अल्का भानसे, वंदना खोबरागडे, शबाना खान, माला भगत, ज्योति कुलकर्णी, चंद्रकला मेश्राम, अरुणा नागोसे, कुंदा कालबांधे, वंदना बाचले, इरफाना पठाण, शोभा सायंकार, नंदा गिरडकर, संगीता देवगीरकर, ज्योति फुलझले, रंजना तांबेकर, प्रज्ञा ढाले, सुजाता घोडे, रजनी पाटिल ने स्वागत किया.