LPG and Petrol

    वर्धा. कोरोना महामारी में अनेक के रोजगार जाने से अनेक की आर्थिक स्थिति बिगड़ गई है. कोरोना की पहली और दूसरी लहर में आम जनता की कमर ही टूट गयी है. कोरोना का फैलाव रोकने के लिए प्रशासन ने लॉकडाउन लगाया था.

    जिस वजह से अधिकांश लोग घर पर ही थे. अनेक के रोजगार इस दरमियान हाथ से चले गए. जैसे-जैसे परिस्थिति सुधर रही थी तो अचानक केंद्र सरकार द्वारा पेट्रोल, डीजल और सिलेंडर के दामों में अलग-अलग कारण बताकर बेहताशा वृद्धि की जा रही है.

    इस वजह से नागरिक हलाकान हुए हैं. अनेक की कमाई कम हुई परंतु महंगाई आसमान छू रही है. अनेक लोगों को माह का खर्चा करते समय बहुत परेशानी हो रही है.

    इस वर्ष पेट्रोल डीजल की कीमत में बढ़ोतरी होने से यातायात का खर्च और अन्य वस्तुओं की किमतों में बढ़ोतरी हो रही है.