इंटरनेट कैफे पर RPF का छापा, एक गिरफ्तार, आरक्षित ई-टीकट की कालाबाजारी

    वर्धा. रेलवे की आरक्षित ई-टिकट की कालाबाजारी करनेवाले एक आरोपी को आरपीएफ पुलिस ने हिरासत में लिया़  बुधवार को सेवाग्राम स्थित स्काइप इंटरनेट कैफे पर हुई छापामार कार्रवाई में यह मामला प्रकाश में आते ही खलबली मच गई़       

    बता दें कि, आरपीएफ पुलिस को रेलवे आरक्षण ई-टिकट के अवैध व्यापार और दलाली गतिविधियों की खुफिया जानकारी प्राप्त हुई़  इसके आधार पर 7 जुलाई को रेलवे पुलिस के एसआई विनोद मोरे, एएसआई सुरेश कनौजिया, एएसआई राजेश मिश्रा ने एनजीपी अमित बारापात्रे व स्टाफ की मदद से सीनियर डीएससी, एनजीपी व एएससी मार्गदर्शन में सेवाग्राम के पुरानी बस्ती वार्ड क्रं.1 में स्थित स्काइप इंटरनेट कैफे पर छापामार कार्रवाई की़  जहां से दीपक गौतम गवई (32) को हिरासत में लिया गया़ वह नागपुर जिले में लिप्त होने की बात सामने आयी़  कमीशन लेकर जरूरतमंद यात्रियों को अधिक दाम में आरक्षित ई-टिकट बेचने का काम करता था़ 

    यात्रियों से 50-100 रुपए की वसूली

    आईआरसीटीसी की वेबसाइट पर फर्जी आईआरसीटीसी व्यक्तिगत यूजर आईडी बनाकर प्रति यात्री 50 से 100 अतिरिक्त राशि वसूल रहा था़  इस संबंध में वह किसी प्रकार का कानूनी लाइसेंस (प्राधिकरण) पेश नहीं कर सका़ 3 प्रयुक्त यात्रा रेलवे आरक्षण ई-टिकट जिसकी कीमत 3,524 रुपए एवं अन्य सभी टिकट यूजर आईडी गवैदीपक व्यक्तिगत आईडी के माध्यम से बुक किए गए थे़  आरोपी से एक कम्प्युटर, प्रिंटर, माउस, की-बोर्ड और प्रिंटर कुल 28 हजार 350 रुपये का माल जब्त किया गया़  पूछताछ के बाद उसके खिलाफ सीआरपीसी के तहत मामला दर्ज कर लिया गया़  प्रकरण में आगे की जांच एएसआई राजेश मिश्रा कर रहे है़ं