संभाजी ब्रिगेड ने कलेक्ट्रेट पर दी दस्तक

वर्धा. केंद्र सरकार ने जारी किए किसान विरोधी बिल रद्द करने की मांग को लेकर संभाजी ब्रिगेड ने जिलाधिकारी कार्यालय पर दस्तक दी़ जहां दिल्ली में चल रहे किसान आंदोलन को समर्थन दर्शाते हुए मांगों का ज्ञापन सौंपा गया़ 

लोकसभा में किसी प्रकार की चर्चा न करते हुए केंद्र सरकार ने काले कानून जारी कर दिए़ उक्त कानून पिछे लेने की मांग को लेकर पंजाब व हरियाणा के किसानों ने आंदोलन शुरु किया है़ इसके समर्थन में 8 दिसंबर को भारत बंद का ऐलान किया गया़ इसे संभाजी ब्रिगेड के प्रदेशाध्यक्ष एड. मनोज आखरे व महासचिव सौरभ खेडेकर ने अपना समर्थन दर्शाया़ साथ ही सोमवार, 7 दिसंबर को जिलाधिकारी कार्यालय पर दस्तक दी़ जिलाधिकारी के माध्यम से प्रधानमंत्री को ज्ञापन भेजा़ इस प्रसंग पर महाराष्ट्र प्रदेश संगठक तुषार उमाले व जिलाध्यक्ष मंगेश विधले के नेतृत्व में जिला उपाध्यक्ष अशोक वेले, जिला कार्याध्यक्ष मंगेश घूनगरुंड, जिला सचिव वैभव तलवेकर, अतुल शेंद्रे, समीर खाण, अनुप उघडे, भुषण गाऊलकर, प्रशांत रोकडे, राहुल बोबडे, रुपेश वाघमारे, राहुल गजभिये, वैभव निखाडे सहित अन्य उपस्थित थे़ 

आंदोलन को सर्पपक्षीय समर्थन

पुलगांव. दिल्ली में चल रहे किसान आंदोलन को पुलगांव में सर्वपक्षीय समर्थन दिया गया़ महाविकास आघाडी के सभी दल, बहुजन समाज पार्टी, वंचित बहुजन आधाडी ने भारत बंद में शामील होने का आहवान किया़ साथ ही काले कानून रद्द करने की मांग का ज्ञापन प्रशासन को सौंपा गया़ पश्चात ली गई सर्वपक्षीय सभा में शिवसेना जिलाप्रमुख बालु शहागाडकर, शहर अध्यक्ष नाना माहुरे, कांग्रेस के शहर अध्यक्ष सुनील ब्राह्मणकर, राकां के श्याम देशमुख, बहुजन समाज पार्टी के राजु लोहकरे, वंचित बहुजन आघाडी के यशवंत भगत, पूर्व नगराध्यक्ष मनीष साहू, पवनकुमार साहू, राजेंद्र रवाले, रमेश कुमार शर्मा, गोविंदभैय्या, चंद्रकांत पवार, देवकांत सहारे, भगवानसिंग ठाकुर सहित अन्य उपस्थित थे़