धुआधांर बारिश ने बढाई आफत

  • पानी में बही सब्जिया, एक घंटे तक झमाझम बारिश, सडके हुई जलमय,

वर्धा. रविवार दोपहर के समय करीब एक घंटे तक हुई धुआंधार बारिश छोटे व्यवसायियों के साथ नागरिकों के लिए भी आफत साबित हुई. झमाझम बारिश के कारण सब्जी पानी में बह गई, जिससे सब्जी विक्रेताओं का काफी नुकसान हुआ. साथ ही सडके जलमय होने से अनेकों को दिक्कतों का सामना करना पडा. वही अनेकों में बारिश से बचने भागदौड मच गई.

wardha

गत कुछ दिनों से प्रतिदिन बारिश दस्तक दे रही है. दोपहर 2 बजे के बाद मौसम में बदलाव हो जाता है. पश्चात बिजली की गडगडाहट के साथ धुआधार बारिश हो रही है. रविवार को सुबह से साफ मौसम था. परंतु दोपहर के बाद अचानक मौसम में बदलाव हुआ. तत्पश्चात दोपहर 3 बजे काले बादलों से आसमान घिरते ही धुआधांर बारिश शुरु हुई. बारिश इतनी तेज थी की सामने का कुछ भी नजर नही आ रहा था. बदरिला मौसम व तेज बारिश से दोपहर में ही श्याम का अहसास हो रहा था. इस तेज बारिश से अनेकों को दिक्कतों का सामना करना पडा. करीब एक घंटे तक जमकर बारिश हुई. शनिवार रात 10 बजे के बाद भी बिजली की गडगडाहट के साथ बारिश ने दस्तक दी. 

सडकों पर बिखरी सब्जिया

अचानक हुई धुआधार बारिश से छोटे सब्जी व्यवसायियों को काफी परेशानी व नुकसान सहना पडा. पटेल चौक में समय रहते सडकों पर दूकान लगानेवाले व्यवसायी अपने दूकान हटा नही पाने के कारण सब्जियां बारिश के साथ बह गई. जिससे सडकों पर सब्जियां फैलने से व्यवसायियों को काफी दिक्कतों का सामना करना पडा.

wardha

तालाब में तब्दिल हुई सडके

एक घंटे की धुआधार बारिश से शहर की लगभग सभी सडके तालाब में तब्दिल हो गई. शहर में फिलहाल अंडरग्राऊंड गडर लाइन का काम जारी रहने से अच्छी-खासी सडके फोडी गई. अब हाल यह है कि, सडकों पर फैली मिट्टी व बने गड्डों में पानी जमा हो गया. नालिया भी चोकअप होने से पानी का रिसाव नही होने से सडके तालाब में तब्दिल हो गई. साथ ही अनेकों के घरों में पानी घुसने की जानकारी है. केरसीमल कन्या स्कूल परिसर में भी पानी भर गया. जिससे दूकानदारों का नुकसान हुआ है.

wardha