Sonegaon Murder Case, Wardha

  • 2 आरोपी गिरफ्तार, मृतक की हुई शिनाख्त

वर्धा. पत्नी को अनैतिक संबंध बनाने के लिए तंग कर रहे युवक को पति व उसके साथी ने मौत के घाट उतार दिया. तीन दिन बाद मृतक की शिनाख्त होते ही पुलिस ने सोनेगांव हत्याकांड की गुत्थी सुलझा ली. फिलहाल दोनो आरोपियों को पुलिस ने हिरासत में ले लिया है.

बता दे कि, तीन दिन पूर्व सोनेगांव (स्टे.) खेत परिसर में अज्ञात युवक का शव बरामद हुआ था. मृतक का चेहरा पत्थर से बुरी तरह से कुचल दिया था. इससे उसकी पहचान कर पाना पुलिस के सामने एक चुनौती थी.

प्रकरण में अपराध शाखा व अल्लीपुर पुलिस सरगर्मी से जांच कर रही थी. इसी बीच गुरुवार को मृतक की शिनाख्त हिंगनघाट के शास्त्रीवार्ड निवासी अविनाश राजू फुलझेले (28) के नाम से हुई. जो 27 अक्टूबर से लापता था. फलस्वरुप इस हत्याकांड की कडिया खुलने लगी.

पुलिस ने खुपिया जानकारी के आधार पर दो संदिग्धो को हिरासत में लिया. पुछताछ में दोनो ने टालमटोल जवाब दिए़ परंतु सख्ती से पेश आने पर दोनो आरोपियों ने अपना गुनाह कबुलने की जानकारी है. पुलिस सूत्रों के अनुसार अविनाश तथा दोनो आरोपी सुधिर उर्फ चेतन दिलीप जवादे (35) व निखील प्रभाकर ढोबले (28) मीत्र थे. अविनाश आरोपियों मे से एक की पत्नी को अनैतिक संबंध बनाने के लिए तंग किया करता था. इसकी भनक लगने से चेतन व निखील ने अविनाश को मौत के घाट उतारने का षडयंत्र रचा.

27 अक्टूबर को निखील उसकी दुपहिया क्रमांक एमएच 32 एए 0205 लेकर पहुंचा़ इसपर बैठकर तीनो सोनेगांव (स्टे़) परिसर में पहुंचे. जहां अवसर देख चेतन व निखील ने अविनाश की हत्या कर दी. सबुत मिटाने के उद्देश्य से अविनाश का चेहरा पत्थर से कुचल दिया.

पश्चात उसका शव प्रमोद महाजन के खेत में फेक कर वहां से दोनो फरार हो गए़ अपराध शाखा व अल्लीपुर पुलिस ने सरगर्मी से जांच कर 48 घंटे के भितर ही इस जटिल मामले की गुत्थी सुलझाई. दोनो आरोपियों को हिरासत में लेकर दुपहिया जब्त की गई.

इस कार्रवाई को पुलिस अधीक्षक प्रशांत होलकर के मार्गदर्शन में अपराध शाखा प्रमुख निलेश ब्राह्मणे के निर्देशानुसार पुलिस कर्मी संतोष दरगुडे, गजानन लामसे, शेख हमीद, रंजीत काकडे, अनील कांबले, चंद्रकांत बुरंगे, राजेश जैसिंगपुरे, श्रीकांत खडसे, राजेश तिवस्कर, प्रमोद पिसे, पवन पन्नासे, गोपाल बावणकर, मनिष कांबले, नवनाथ मुंडे, अमोल ढोबले, प्रदीप वाघ ने अंजाम दिया़ फिलहाल दोनो आरोपियों को आगे की जांच के लिए अल्लीपुर पुलिस के हवाले कर दिया गया है.