Containment Zone in Samtanagar

वर्धा. आर्वी नप के पूर्व स्वास्थ्य सभापति व वर्तमान पार्षद की 29 वर्षीय पत्नी कोरोना पॉजिटिव पाये जाने से भाजपा नेता व प्रशासनिक खेमे में हडकम्प मच गया है़ अमरावती से लौटने के बाद महिला जिस बैंक में काम करती थी, वहां पर भी जाने की बात सामने आयी़ परिणामवश महिला व उसका पार्षद पति कितने लोगो के संपर्क में आये हैं, इसकी तलाश में प्रशासन जूटा हुआ है़.किन्तु दम्पति अनेको के संपर्क में आने से प्रशासन की मुश्किलें बढ़ गई है.

सूत्रो के अनुसार कोरोनाबाधित महिला 17 जून को अमरावती से आर्वी पहुंची थी. इसके बाद 25 जून को उसकी तबियत बिघडने से उसके स्वैब जांच के लिए भेजे गए थे.किसी तकनीकी समस्या के कारण उसके स्वब पुनः जांच के लिये भेजे गये थे.उसकी रिपोर्ट पॉजिटिव प्राप्त हुई़ महिला आर्वी के निजी बैंक में कार्यरत बताई गई़ उल्लेखनिय यह कि, वह 17 से 25 जून के बिच बैंक में कर्तव्य पर गई थी.

दूसरी ओर पति नप के पूर्व स्वास्थ्य सभापति, भाजपा नेता तथा वर्तमान नगरसेवक होने से वें भी इन दिनों लोगों के संपर्क में थे़ शनिवार की सुबह 11.30 बजे दौरान उन्हें आर्वी थाने के पुलिस उपनिरीक्षक दर्जे के अधिकारी के साथ शिवाजी चौराहे पर देखा गया़ जहां दोनो मिलकर गांधी चौक की ओर जानेवाली यातायात सुचारु करने के दृष्टी से काम कर रहे थे़ इतना ही नहीं तो  महिला का पति भाजपा के कुछ नेता, कार्यकर्ता व प्रशासनिक अधिकारी एवं कर्मियों से भी मिलने की जानकारी है़ परिणामवश अब प्रशासनिक खेमा महिला व उसके पति के निकट तथा अन्य तरीके से संपर्क में आनेवालों को ट्रेस करने में जुटा हूआ है.