गुरूवार से नही खुलेगा बोर व्याघ्र प्रकल्प, अधिकारी हुए संक्रमित

वर्धा. सरकार व वनविभाग के आदेश के बाद 1 अक्टूबर से राज्य के सभी व्याघ्र प्रकल्प शुरू होनेवाले है. जिससे पर्यटकों में खुशी की माहोल था. किंतू कोरोना का इफेक्ट अब व्याघ्र प्रकल्प पर भी पडने लगा है.बोर के  अधिकारी संक्रमित होने के कारण 1 अक्टूबर से पर्यटकों के लिए व्याघ्र प्रकल्प नही खुलेगा. जिससे वन्य प्रेमियों को एक पखवाडे की प्रतिक्षा करनी होगी. वनविभाग  ने 15 सितम्बर को आदेश निर्गमित कर बोर व्याघ्र प्रकल्प 1 अक्टूबर से पर्यटकों के लिए खोलने के निर्देश वनपरिक्षेत्राधिकारी निलेश गावंडे को दिए थे. जिससे विभाग ने सभी तैयारियां पूर्ण की थी. किंतु बोर व्याघ्र प्रकल्प व न्यू बोर व्याघ्र प्रकल्प के अधिकारी पॉजिटिव आने के कारण उनके निकट संपर्क में आए हुए अन्य कर्मियों को क्वांरटाईन किया गया है. जिससे अधिकारी व कर्मचारियों के कमी के चलते वनविभाग ने 15 अक्टूबर तक बोर व्याघ्र प्रकल्प बंद रखने का निर्णय लिया है. इस संदर्भ में संभाग के वन अधिकारी डा. अजीत साजने ने पत्र जारी किया है.